Indian Railway : अब स्लीपर के किराये में मिलेगा AC का मजा, जानें- कैसे होता है अपग्रेड टिकट….

Auto Upgradation Scheme : भारतीय रेलवे अपने यात्रियों के लिए कई सुविधाएं लेकर आता है। इनमें से एक है ऑटो अपग्रेडेशन स्कीम (Auto Upgradation Scheme)। इस योजना के तहत अगर आप स्लीपर का टिकट खरीदते हैं तो आपको थर्ड एसी में यात्रा करने का मौका मिल सकता है।

इसके लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाता है। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे होता है। तो यह आर्टिकल आपके लिए है। आज हम ऑटो अपग्रेडेशन स्कीम के बारे में विस्तार से जानेंगे।

Auto Upgradation Scheme क्या है?

अगर आपने स्लीपर कोच में टिकट लिया है तो उसे थर्ड एसी में अपग्रेड कर दिया जाता है और रेलवे इसके लिए कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं लेता है। वहीं, अगर किसी व्यक्ति ने एसी 3 का टिकट लिया है तो उसे एसी 2 में अपग्रेड कर दिया जाता है और इसी तरह सेकेंड एसी का टिकट फर्स्ट एसी में अपग्रेड कर दिया जाता है। हालाँकि, ऑटो अपग्रेडेशन तभी संभव है जब संबंधित श्रेणी में बर्थ उपलब्ध हों।

रेलवे यह योजना क्यों लाया?

कई बार ट्रेनों के AC1, AC2 कोच में सीटें खाली रह जाती हैं, क्योंकि इनका किराया तुलनात्मक रूप से ज्यादा होता है। ऐसे में इन बर्थों के खाली रहने से रेलवे को नुकसान उठाना पड़ता था। इसके बाद रेलवे ने सोच-समझकर ऑटो अपग्रेड स्कीम लॉन्च की, जिसमें अगर ऊपरी क्लास में कोई भी बर्थ खाली रह जाती है। ऐसे में यात्रियों को कोच के हिसाब से एक क्लास उपर अपग्रेड कर दिया जाता है।