28 January 2023

UP का अमित सिंह कैसे बना पटना का “Khan Sir”, जानें- दिलों पर राज करने वाले टीचर की कहानी…

UP का अमित सिंह कैसे बना पटना का "Khan Sir", जानें- दिलों पर राज करने वाले टीचर की कहानी… 1

Khan Sir : पटना वाले खान सर आज किसी परिचय के मोहताज नहीं है। खान सर सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में रहते हैं। कभी अपने नाम को लेकर तो कभी पढ़ाने के तरीके को लेकर। खान सर का अपना एक अलग अंदाज है। यह बिल्कुल देशी अंदाज में बच्चों को दोस्त की तरह पढ़ाते हैं। इनके विद्यार्थियों के सूची में सभी एज के लोग हैं। यूट्यूब पर इनका वीडियो बच्चा से लेकर बूढ़े तक देखते हैं। आज हम उनके सफल सफर को लेकर चर्चा करेंगे तो आइए जानते हैं।

खान सर YouTube की दुनिया के प्रसिद्ध शिक्षकों में से एक हैं। उनकी विशिष्ट देसी शैली और विषयों को पढ़ाने में आसानी के कारण उनके बहुत से अनुयायी हैं। मस्ती के साथ ठेठ बिहारी अंदाज में उनका पढ़ाना छात्रों को भी खूब भाता है। उनका चैनल खान जीएस रिसर्च सेंटर के नाम से चलता है। जो 25 अप्रैल 2019 को शुरू हुआ था। आज इस चैनल के लगभग 15 मिलियन सब्सक्राइबर हैं। उनका खान जीएस रिसर्च सेंटर के नाम से पटना में कोचिंग संस्थान है।

खान सर का जन्म 1993 में उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में हुआ था। उन्होंने देवरिया जिले के भाटपाररानी कस्बे के परमार मिशन स्कूल में पढ़ाई की। उनके पिता भारतीय सेना में अधिकारी रह चुके हैं। हालांकि अब वह सेवानिवृत्त हो चुके हैं। उनके बड़े भाई भी सेना में कमांडो हैं। एक वीडियो में खान सर ने बताया था कि वह एनडीए में शामिल होना चाहते हैं। उसने परीक्षा भी पास कर ली थी, लेकिन मेडिकल परीक्षा पास नहीं कर सका। हाथ थोड़ा टेढ़ा होने के कारण उनका चयन नहीं हो सका।

एक टीवी चैनल से बातचीत में खान सर यानी अमित सिंह ने कहा था कि ‘किसी को नाम से नहीं जाना चाहिए।’ बस इतना ही समझ लेना चाहिए कि मेरा नाम क्या है, वह अलग बात है और लोग हमें जिस नाम से बुलाते हैं, वह अलग बात है। नेल्सन मंडेला को अफ्रीका का गांधी कहा जाता है लेकिन इस आधार पर आप यह नहीं कह सकते कि वह गांधी हैं। मुझे जो बताया जाता है उस पर मैं ज्यादा ध्यान नहीं देता। कुछ लोग मुझे कई नामों से पुकारते हैं। जिनमें से एक है अमित, खान साहब तो बस एक उपाधि है। मेरा मूल नाम नहीं। मैंने अपना पूरा नाम कभी नहीं बताया।