Indian Railway : अब स्लीपर की टिकट पर मिलेगा AC वाला मजा, यहां जान लीजिए नियम….

Railway : हमारे देश में लगभग 2 करोड़ लोग हर रोज रेलवे से अपना सफर पूरा करते हैं। हालांकि भारतीय रेलवे (Railway) लोगों को कई तरह की सुविधा भी देता है। ऑनलाइन टिकट बुकिंग करता है तो उसे ऑटो अपग्रेडेशन का ऑप्शन मिलता है। इस सुविधा का फायदा है कि जब आप स्लीपर कोच में टिकट बुक करते हैं और वह वेटिंग लिस्ट में मिलती है तो आपकी AC कोच में भी ट्रांसफर की जा सकती है लेकिन इसके कुछ नियम है।

रेलवे (Railway) द्वारा यह सुविधा सभी यात्रियों को दी जाती है जो ऑनलाइन टिकट बुकिंग करते हैं। इसमें रेलवे आपकी टिकट एक क्लास ऊपर अपग्रेड कर देता है। अगर आपने जिस कोटे में टिकट बुकिंग की है उसमें आपको सीट नहीं मिल रही है तो आपका कोटा अपग्रेड कर दिया जाता है।

इसका मतलब है कि अगर कोई पैसेंजर स्लीपर क्लास (Sleeper Class) की टिकट लेते हैं तो वह फ्री में 3एसी (3rd AC) में अपनी टिकट को अपग्रेड कर सकते है। ऑटो अपग्रेड में अगर थर्ड एसी, सेकंड एसी और एसी फर्स्ट कोच में सीट उपलब्ध होती है तो यात्री अपनी टिकट के हिसाब से उसे अपग्रेड कर सकते हैं। रेलवे (Railway) के सभी यात्रियों को यह सुविधा बिल्कुल मुफ्त दी जाती है।

फ्री में कब होगा टिकट अपग्रेड

आप चाहे तो सफ़र से पहले या सफर के दौरान टिकट अपग्रेड कर सकते हैं। लेकिन अगर आप सफर के दौरान टिकट अपडेट करते हैं तो आपको एक्स्ट्रा पैसा देना होगा। लेकिन अगर आपने टिकट बुकिंग करते समय ऑटो अपग्रेडेशन का विकल्प चुना है तो आपकी टिकट फ्री में अपग्रेड हो जाएगी। लेकिन आपकी सीट तभी अपग्रेड होगी जब ट्रेन में सीट अवेलेबल होती है।

किस आधार पर होती है टिकट अपग्रेड

भारतीय रेलवे (Railway) ने वर्ष 2006 में ऑटो अपग्रेडेशन स्कीम (Auto-Upgradation Scheme) शुरू की थी। इसमें आपको ऑटो अपग्रेडेशन का विकल्प टिकट बुकिंग करते समय सबसे ऊपर दिया जाता है। ये विकल्प आपको IRCTC के ऐप और वेबसाइट पर दिया जाता है। रेलवे द्वारा चार्ट बनने के बाद टिकट अपडेट करने पर विचार किया जाता है।