अब भारत से नेपाल लेकर नहीं जा सकेंगे 100 रुपए से अधिक का नोट, जानें- बड़ी वजह….

Indian Currency : नेपाल और भारत एक दूसरे के पड़ोसी है और एक दूसरे के साथ सामाजिक और धार्मिक महत्व के लिए जुड़े हुए हैं। लेकिन कुछ दिनों पहले नेपाल सरकार ने कुछ नए नियम निकाले हैं जिसके कारण भारतीयों को परेशानी हो सकती है।

आपको बता दें नेपाल सरकार ने भारतीय मुद्रा (Indian Currency) को लेकर नया नियम जारी किया है जिसके कारण सीमावर्ती इलाकों के लोगों को काफी परेशानी होगी। बताया जा रहा है कि नए नियम के अनुसार कोई भी नेपाल में कोई भी 5 हजार से ज्यादा रुपये लेकर नहीं जा सकता है।

नेपाल राष्ट्र बैंक ने लिया बढ़ा फैसला

आपको बता दे कि नेपाल राष्ट्रीय बैंक ने भारतीय मुद्रा (Indian Currency) को लेकर एक नई अधिसूचना जारी की है जो आपके लिए मुश्किल खड़ी कर सकती है। इस अधिसूचना के अनुसार ₹100 से अधिक की भारतीय मुद्रा पर रोक लगा दी गई है।

इसके अलावा अधिकतम लिमिट ₹5000 कर दी गई है। इसमें भी अगर आप अधिकतम ₹5000 लेकर जा रहे हैं तो ₹100 से अधिक का नोट नहीं होना चाहिए। इसके अलावा अधिसूचना में कहा गया है कि नेपाल में नेपाली मुद्रा का ही प्रयोग करें और प्रतिबंधित नोट लेकर जाने पर कार्रवाई होगी।

नेपाल राष्ट्र बैंक की अधिसूचना

नेपाल राष्ट्र बैंक के अधिसूचना के आधार अगर आप भारत से नेपाल जा रहे हैं तो 5000 रुपये तक की राशि और इसमें भी ₹100 व उससे कम के नोट लेकर जा सकते हैं। वही नेपाल का कोई नागरिक भारत जाता है तो वह ₹25000 लेकर जा सकता है और चिकित्सा मामलों में ₹50000लेकर जा सकता है। नेपाली नागरिक मनी चेंजर से ₹25000 तक की सामग्री खरीद सकता है।

क्या कहते है जानकार

जानकार लोग ऐसा कहते हैं कि इस अधिसूचना के बाद नेपाल और भारत दोनों देशों पर ही प्रभाव पड़ने वाला है। लेकिन नेपाल के पर्यटन क्षेत्र को इससे काफी फायदा मिलेगा क्योंकि अधिक भारतीय लोग ही नेपाल घूमने जाते हैं। इसलिए नेपाल आने वाले भारतीयों को मनी चेंजर से भारतीय मुद्रा (Indian Currency) बदलनी होगी। इस आदेश के बाद नेपाल और भारतीय क्षेत्र के व्यापारी बहुत चिंता में है।