Bank Sakhi : इन महिलाओं को हर महीने मिलेंगे ₹25,000, जानें- कैसे और कौन ले सकता है फायदा?

Bank Sakhi : अब सरकार द्वारा कई सारी योजनाएं महिलाओं के विकास के लिए भी चलाई जा रही है। अगर आप भी बेरोजगार महिला है तो यह खबर आपके लिए बड़ी काम की हो सकती है। सरकार द्वारा शुरू की गई बैंक सखी (Bank Sakhi) योजना में आपको हर महीने ₹25,000 कमाने का मौका मिलेगा।

इसमें आपको गांव की महिलाओं को एकत्रित करने ट्रेनिंग देनी होगी। मौजूदा समय में लाखों महिलाएं बैंक सखी (Bank Sakhi) योजना से जुड़ चुकी है। आप भी कुछ डॉक्यूमेंटेशन प्रक्रिया के बाद आसानी से इस योजना से जुड़ सकती है। आइये आपको विस्तार से बताते हैं कि बैंक सखी योजना से जुड़ने के लिए आपको क्या करना होगा?

क्या है बैंक सखी योजना

हमारे देश में अभी भी कई ग्रामीण इलाके ऐसे हैं जो शहर की पहुंच से बहुत दूर है। शहर जाने के लिए लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है। यही कई सुदूर गांव तो ऐसे हैं जिन्हें शहर जाने के लिए नदी-नालों से भी होकर गुजरना होता है। बस ऐसे ही कुछ गाँवो के लिए सरकार ने बैंक सखी (Bank Sakhi) नाम की योजना शुरू की है। ताकि ऐसे ग्रामीण इलाके में रहने वाले लोग भी बैंक संबंधी अपनी सभी जरूरत को पूरा कर सके।

सरकार बैंक सभी योजना के माध्यम से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना चाहती है और उनका विकास करना चाहती है। ऐसी महिलाओं को ट्रेनिंग देकर तैयार किया जाता है। ताकि गांव के बुजुर्ग लोगों को पेंशन, मनरेगा का भुगतान, बैंक में खाता खुलवाने के लिए लंबी दूरी तय कर ज्यादा भटकना न पड़े। साथ ही बैंक संबंधी सभी काम गांव में ही हो जाए।

ये महिलाएं है पात्र

बैंक सखी (Bank Sakhi) बनने के लिए ट्रेनिंग के बाद इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग फाइनेंस द्वारा आयोजित परीक्षा को पास करना अनिवार्य होगा। इस काम के लिए बैंक सखी हो कमीशन दिया जाता है और सरकार द्वारा उनको इंसेंटिव भी दिया जाता है। महिला जितना ज्यादा बैंक से संबंधित काम पूरा करेगी उतना ज्यादा ही कमीशन और इंसेंटिव मिलेगा।

सरकार महिलाओं को बैंक सखी योजना स्वयं सहायता समूहों को बैंकिंग कार्य से जोड़ने की योजना है। इस योजना के तहत बैंक सखी (Bank Sakhi) महिला ट्रेनिंग लेकर गांव में बैंक संबंधी सुविधा उपलब्ध करवा सकेगी। इसके बाद किसी भी व्यक्ति को बैंक का काम करने के लिए शहर नहीं जाना पड़ेगा। बैंक सखी योजना के तहत सभी काम आपके गांव में ही हो जाएंगे।