31 January 2023

बिहार के 2 युवाओं का कमाल – सरकार ने नही बनाया पुल तो बना दी 300 फीट लंबी की चचरी पुल..

बिहार के 2 युवाओं का कमाल - सरकार ने नही बनाया पुल तो बना दी 300 फीट लंबी की चचरी पुल.. 1

न्यूज़ डेस्क: बिहार में सरकार कब बदल जाती है इस बात की भनक शायद ही किसी को लगती भी है। बदलने के बाद जब चारों ओर नई सरकार की घोषणा होती है तब जाकर लोग कहते हैं लो जी फिर सरकार बदल गई। सरकार गिरने और बनने की कवायद के बीच प्रदेश का एक हिस्सा जिसे मिथिला कहां जाता है।

इस क्षेत्र के साथ भेदभाव किया जाना कोई नई बात नहीं है। दरभंगा से एक ऐसी वीडियो वायरल हो रही है तो आपको विकास के नाम पर आजादी के इतने साल बाद भी चचरी पुल मिलेगा।

दरभंगा जिले के किरतपुर पंचायत के कुछ लोगों ने ऐसा कर दिखाया है जिसके बाद सरकार को शर्म आनी चाहिए। जिले के लाखो लोग कोसी नदी पर पुल न होने की वजह से प्रभावित हैं। लेकिन अब दो स्थानीय निवासी वीर यादव और गंगा राम यादव ने अपने खर्चे से कोसी नदी पर करीब 300 फुट का बांस का पुल बनाया है. उनके बनाए चाचरी पुल को देखने के लिए आसपास के कई इलाकों से लोग यहां पहुंच रहे हैं।

दरअसल इस चाचरी पुल के बनने से दरभंगा, मधुबनी और सहरसा की जनता को सीधा लाभ मिलने लगा है। क्योंकि यहां इन तीन जिलों की सीमा पर स्थित कोसी बांध के पास पीएससी किरतपुर बना है। इस वजह से इन जिलों की कई पंचायतों से लोग रोजाना यहां इलाज के लिए पहुंचते हैं। इसी चाचरी पुल से नदी पार कर रहे लोगों का किसी ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद जिला प्रशासन की नींद खुल गई।

दरभंगा के जिलाधिकारी (डीएम) राजीव रोशन ने बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के अध्यक्ष को एक रिपोर्ट लिखी है। इसमें उन्होंने कहा है कि कोसी नदी में जलस्तर कम होने पर यहां के लोग चाचरी पुल खुद बनाते हैं और आवागमन करते हैं। साथ ही बताया कि सहरसा जिले के बकुनिया, गोविंदपुर जैसे कुछ गांवों के लोग भी आवागमन करते हैं।

इस तरह इस क्षेत्र की करीब 30 से 35 हजार आबादी प्रभावित है। उन्होंने कहा कि यहां पुल की जरूरत है। पुल के लिए सरकारी जमीन भी उपलब्ध है। उक्त आलोक में उन्होंने अध्यक्ष, बिहार राज्य पुल निर्माण निगम से उपरोक्त कठिनाइयों को देखते हुए कीरतपुर अंचल में कोसी नदी पर पुल निर्माण कराने का अनुरोध किया है।