Bullet Train Deal : जापान से 6 बुलेट ट्रेन खरीदेगा भारत? जानें- कब होगी फाइनल डील……

Bullet Train Updates : भारत का रेलवे नेटवर्क काफी बड़ा है। वहीं अब भारत में जल्द ही बुलेट ट्रेन की भी एंट्री होने वाली है। जिसके बाद रेलवे में सफर करने वाले यात्रियों की पहले से ज्यादा समय की बचत होने वाली है। दरअसल खबरों के मुताबिक भारत इस महीने जापान से 6 बुलेट ट्रेन खरीदने वाला है। यह पहली 6 E5 सीरीज की बुलेट ट्रेन होगी। जिसे भारत अपने रेलवे में मिलाने जा रहा है ।

जानकारी के मुताबिक, गुजरात में साल 2026 के जून जुलाई के बीच पहली बुलेट ट्रेन शुरू हो सकती है। वही इस साल 15 अगस्त तक नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड कई ट्रेनों और ऑपरेटिंग सिस्टम को खरीदने के लिए सभी अनुबंधों पर बोली लगाएगा।

दो प्रकार की ट्रेनों का होगा संचालन

मुंबई और अहमदाबाद के बीच की दूरी को कम करने के लिए इस समय खास प्लान तैयार किया जा रहा है। इस दौरान 508 किलोमीटर के इस लंबे बुलेट ट्रेन कॉरिडोर में यात्रियों को ऑल स्टॉप और सीमित स्टॉप जैसे सेवाएं मिलेगी। ऑल स्टॉप वाली ट्रेन की दूरी करीब 2.45 मिनट में पूरी होगी तो वही सीमित स्टॉप वाली ट्रेन में मुंबई से अहमदाबाद की दूरी मात्र 2 घंटे में होगी।

वही आपको बता दे कि जनवरी तक बुलेट ट्रेन परियोजना की प्रगति 40% तक हुई है। जिसमें गुजरात में इस परियोजना का कार्य 48.3% तथा महाराष्ट्र में 22.5% तक हुआ है। हालांकि प्रगति के मामले में गुजरात महाराष्ट्र से आगे है। पिछले 1 साल में महाराष्ट्र में करीब 6 पुलों का निर्माण कार्य पूरा हुआ है तो वहीं गुजरात में 20 में से 7 फूलों का निर्माण कार्य  पूरा हो चुका है।

अश्विनी वैष्णव ने बुलेट ट्रेन परियोजना का किया निरीक्षण

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने हाल ही में बुलेट ट्रेन परियोजना का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि अहमदाबाद और मुंबई के बीच 508 किलोमीटर की दूरी पूरा करने के लिए सूरत बिलिमोरा खंड साल 2026 के जुलाई से अगस्त के बीच शुरू हो सकता है। यह पहला खंड शुरू होने के बाद अन्य खंडों पर भी जल्द ही संचालन प्रारंभ कर दिया जाएगा। इस दौरान रेल मंत्री ने देश में रेल नेटवर्क के विस्तार करने की भी बात कही है।

रेल मंत्री ने उद्धव ठाकरे को ठहराया जिम्मेदार

बुलेट ट्रेन परियोजना की रफ्तार धीरे होने पर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने उद्धव ठाकरे सरकार को जिम्मेदार बताया। इस दौरान रेल मंत्री ने बताया कि इस कार्य को पूरा करने के लिए परमिशन जल्द ही मिल गई होती तो बुलेट ट्रेन परियोजना अब तक काफी प्रगति कर चुका होता। गौरतलम है कि महाराष्ट्र में बुलेट ट्रेन परियोजना की परमिशन देने में उद्धव ठाकरे सरकार ने देरी की थी। बता दे कि बुलेट ट्रेन चलने से देश में आर्थिक प्रकृति भी होगी तथा लोगो को पहले से ज्यादा आरामदायक और सुविधाजनक सफर मिलेगा।