Types of Visa : आखिर क्या होता है वीजा? जानें – कितनी तरह के होते हैं और कैसे मिलेंगे….

Types of Visa : एक देश से दूसरे देश में जाने के लिए लोगों को प्लेन से सफर करना पड़ता है और इसके लिए उन्हें पासपोर्ट (Passport) की जरूरत होती है। पासपोर्ट पर एक लेबल या मुद्रांकन लगाया जाता है जिसे वीजा कहते हैं। वीजा (Visa) में आमतौर पर वाहक की तस्वीर, नाम, राष्ट्रीयता, जन्मतिथि और यात्रा की समाप्ति तिथि जैसी जानकारी शामिल होती है।

अगर आप किसी दूसरे देश में जा रहे हैं तो आपको वीजा लेना जरूरी होता है। वीजा के लिए आवेदन करने के लिए व्यक्ति को उस देश की राजदूतावास या विदेश दूतावास से संपर्क करना पड़ता है। अलग-अलग देशों के लिए अलग-अलग वीजा (Visa) प्राप्त करना होता है और इन सब की प्रक्रिया अलग होती है। वीजा के लिए जरूरी दस्तावेज और शर्ते भी देश के अनुसार अलग होती है।

कितने प्रकार के होते है वीजा?

टूरिस्ट वीजा : अगर कोई छुट्टियां मनाने या वेकेशन के लिए किसी दूसरे देश में जाता है तो उसके लिए टूरिस्ट वीजा दिया जाता है। अगर आप भारत से स्विट्जरलैंड घूमने जाना चाहते हैं तो आपको टूरिस्ट वीजा (Tourist Visa) की जरूरत होगी।

बिजनेस वीजा : अगर आप भारत से इंग्लैंड किसी बिजनेस की मीटिंग के लिए जा रहे हैं तो आपको बिजनेस वीजा (Business Visa) लेना होगा।

स्टूडेंट वीजा : अगर आप भारत से किसी अन्य देश में पढ़ाई करने के लिए जा रहे हैं तो आपको स्टूडेंट वीजा (Student Visa) लेने की जरूरत है।

कार्य वीजा : अगर आप भारत से किसी अन्य देश में काम करने के लिए जा रहे हैं या नौकरी करने जा रहे हैं तो आपको लेबर वीजा या कार्य वीजा लेने की जरूरत है।

राजनयिक वीजा : यह वीजा राजनयिकों और उनके परिवारों के लिए है।

वीजा लेने की प्रक्रिया

Visa लेने के लिए आपको एक आवेदन पत्र भरना होगा। इसके साथ पासपोर्ट और फोटो जमा करना होगा। इसके बाद शुल्क का भुगतान करना होगा। कुछ मामलों में, आवेदकों को साक्षात्कार के लिए भी उपस्थित होना पड़ सकता है।

कैसे करें आवेदन

अगर आप भारत से बाहर अन्य किसी देश की यात्रा करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पासपोर्ट के साथ वीजा (Visa) की जरूरत होती है। यात्रा करने से पहले आपको वीजा के लिए आवेदन करना होगा। आप अपने देश में स्थित दूतावास या वाणिज्य दूतावास में वीजा के लिए आवेदन कर सकते हैं।