Thursday, July 25, 2024
Business

आ गया UPI का नया नियम- 4 घंटे तक नहीं होगी Payment, जानें- कितना पड़ेगा असर…..

UPI : आजकल डिजिटल लेनदेन का जमाना आ गया है और लोग अब UPI के जरिए ही पेमेंट करते हैं। लेकिन इससे जुड़े नियमों के बारे में लोगों को पता नहीं होता है समय के साथ UPI के नियमों में बदलाव होता रहता है। अब भारतीय ग्राहकों के लिए पेमेंट करने से लेकर रिसीव करने तक की कई सारे नियम बदल चुके हैं। साल 2024 में UPI ट्रांजैक्शन की संख्या लगातार बढ़ती की जा रही है। इसी कारण सरकार भी नए फैसले ले रही है।

UPI को लेकर सरकार नए नियम बना रहे हैं और अब यूपीआई से पेमेंट करने के लिमिट को बढ़ाने से संबंधित फैसला लिया गया है। अब कोई भी तरह से अस्पताल और शैक्षणिक संस्थान में 5 लख रुपए तक UPI से पेमेंट कर सकता है। इससे पहले यह लिमिट ₹10,0000 तक की थी। इसका मतलब है कि सरकार द्वारा लिए गए नए फैसले से अब ग्राहकों के साथ ही अस्पताल और शिक्षण संस्थान को भी फायदा होगा।

आज ही में नेशनल पेमेंट्स कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) ने सेकेंडरी मार्केट के लिए UPI इंट्रोड्यूस की है। फिलहाल यह अपने बीटा फेज में है। अब सेकेंडरी मार्केट के लिए भी UPI कई तरीकों से मदद करेगी।इसकी मदद से अब ग्राहक आसानी से किसी भी जगह निवेश कर सकेंगे। ट्रेडिंग सेटलमेंट इसकी मदद से काफी आसान बन जाएगा। क्योंकि यह सिंगल-ब्लॉक-मल्टीपल-डेबिट फैसिलिटी पर काम कर रहा है। इससे ग्राहकों को ट्रांसपेरेंसी और फुल कंट्रोल मिलता है।

अब QR कोड की मदद से भी आप ATM से पैसे निकाल सकते है। इस पर अभी भी काम चल रहा है और ये अभी पायलट फेज में है। आपको बता दें कि अगर अब आप QR कोड स्कैन करके पेमेंट करेंगे तो ATM मशीन से कैश आपको मिल जायेगा। ये कदम ग्राहकों को बेहतरीन सुविधा देने के लिए उठाया गया है। अब UPI के लिए कूलिंग पीरियड का समय भी 4 घंटे का कर दिया गया है। यानी आप पहले ग्राहक को 2 हजार रुपए तक पेमेंट करेंगे।

Durga Partap

दुर्गा प्रताप पिछले 1 सालों से बतौर Editor में के रूप में thebegusarai.in से जुड़े। इन्हें बिजनेस, ऑटोमोबाइल्स और खेल जगत से जुड़ी खबरे को गहराई से लिखने में काफी दिलचस्पी है। पिछले 5 साल से वह कई समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लगातार योगदान देते रहे हैं। दुर्गा ने MDSU से BCA की पढ़ाई पूरी की है।