PJAK : घर पर दवा की दुकान खोलिए…सरकार देगी पैसा, कमीशन के साथ-साथ अलग से खूब होगी कमाई…

PM Jan Aushadhi Kendra : आज के समय में अधिक से अधिक लोग अपना बिजनेस शुरू करने का प्लान बना रहे हैं और कुछ लोग बिजनेस शुरू भी कर रहे हैं. क्योंकि बिजनेस कमाई क्या एक बड़ा जरिया है, लगभग हर एक सेक्टर में नए-नए लोगों की एंट्री लगातार हो रही है.

बिजनेस मॉडल को सफल बनाने और तगड़ा मुनाफा कमाने के उद्देश्य से शुरू किया जा रहा है. अगर आप भी नया बिजनेस शुरू करने का प्लान बना रहे हैं तो आज हम आपके लिए एक ऐसा बिजनेस प्लान लेकर आए हैं, जिसे शुरू करके आप अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. आइए इस बिजनेस प्लान के बारे में जानते हैं..

दरअसल, आप मेडिकल स्टोर खोलकर तगड़ी कमाई कर सकते हैं, क्योंकि मेडिकल सेक्टर में कमाई बढ़िया होती है और ऐसे में केंद्र सरकार जेनेरिक दवाइयां मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र (PM Jan Aushadhi Kendra) खोलने का फैसला लिया है. जिसका लाभ आप उठा सकते हैं इसके लिए सरकार भी फंड के रूप में आप काम मदद कर रही है.

तेजी से खुल रहे केंद्र

बता दें कि, भारत सरकार लगातार जन औषधि केंद्र की संख्या में बढ़ोतरी करने के लिए काम कर रही है. वहीं मार्च 2024 तक देश भर में जन औषधि केंद्र की संख्या बढ़कर 10,000 करने का लक्ष्य भी तय किया गया है. आम लोगों को महंगी दवाइयां से छुटकारा दिलाने के लिए सरकार इस मॉडल पर काम कर रही है.

क्या है प्रोसेस ?

कौन कर सकता है अप्लाई:- इस जन औषधि केंद्र (PM Jan Aushadhi Kendra) को खोलने के लिए सरकार ने पहले कैटेगरी में किसी भी व्यक्ति को खोलने की अनुमति दी है. वहीं बेरोजगार फार्मासिस्ट कोई डॉक्टर या फिर रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर भी इसे खोल सकता है. इसके अलावा दूसरी कैटेगरी में ट्रस्ट, एनजीओ और प्राइवेट हॉस्पिटल को अनुमति मिलती है. वहीं तीसरी कैटेगरी में राज्य सरकारों की तरफ से नॉमिनेटेड किए गए एजेंसी को भी जन औषधि केंद्र खोलने का मौका मिल सकता है.

पहले जरूरी लाइसेंस:- प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र (PM Jan Aushadhi Kendra) योजना के तहत खोले जाने वाले मेडिकल स्टोर में एससी और एसटी के अलावा दिव्यांग आवेदकों को ₹50000 तक की दवा को एडवांस में देने का फैसला किया गया है. जबकि दुकान प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के नाम से ही खोली जाएगी जन औषधि केंद्र खोलने के लिए सबसे पहले रिटेल ड्रग्स सेल्स का लाइसेंस भी लेना होगा. जिसके लिए आप आधिकारिक वेबसाइट से इसका फॉर्म लेकर ऑनलाइन माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं.

क्या होगा कमाई का परसेंट:- रही बात कमाई के लिए तो आप की जानकारी के लिए बता दे की जन औषधि केंद्र में दवाइयां की बिक्री 20% तक की कमीशन पर दिया जाएगा. इसके अलावा हर महीने होने वाली बिक्री पर 15% का इंसेंटिव आपको दिया जाएगा. इसके साथ-साथ प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र (PM Jan Aushadhi Kendra) के माध्यम से खोली जा रही दुकान के लिए फर्नीचर और अन्य चीजों की मदद सरकार की ओर से की जा रही जिसके लिए आपको डेढ़ लाख रुपए का आर्थिक मदद भी किया जाएगा.