May 17, 2022

Indian Railway : Train टिकट कैंसिल करने पर मिलेगा पूरा रिफंड, बस करना होगा ये काम, जानिए डिटेल में..

Indian Railways full refund

Indian Railway : भारतीय लोगों के लिए इंडियन रेलवे (Indian Railway) यात्री करने का एक सुगम माध्यम है। ज्यादातर, लोग लंबी यात्रा के लिए ट्रेन सफर करना पसंद करते हैं। वजह साफ है, की कम कीमत में रेलवे यात्री को अत्यधिक फैसिलिटी देता है और यात्रा भी शानदार होता हैं।

कई लोग अपनी यात्रा को सुखद बनाने के लिए कुछ माह पहले से ही रेल टिकट बुक करा लेते है। ताकि, सफर के दौरान उन्हें कोई परेशानी नहीं हो। हालांकि, कई बार किन्हीं कारणों से लोगों को अपना सफर रद्द करना पड़ता है। ऐसे में लोग अपना पैसा वापस पाने के लिए ट्रेन टिकट को भी कैंसिल करा देते हैं। अब ऐसी स्थिति में आपके लिए इससे जुड़ा रेलवे का नियम जानना जरूरी हो जाता है, ताकि आप ज्यादा चार्ज कटने से बच सकें

क्यों जरूरी है नियमों को जानना : किसी कारण से आपको भी अगर अपना सफर कैसिंल करना पड़ जाए और आप ट्रेन टिकट रद्द कराने की सोच रहे हैं तो पहले आपके लिए रेलवे के नियम को जानना जरूरी है, जिसमें अलग-अलग क्लास के लिए अलग कैंसिलेशन चार्ज तय किया गया है। इन नियमों को जानकर आप अपने काफी हद तक पैसे बचा सकते हैं।

यहां जानें कैंसिलेशन के लिए क्या है नियम

  • अगर बाढ़ जैसी स्थिति की वजह से ट्रेन कैंसिल होती है, तो ऐसे में यात्री को टिकट का पूरा रिफंड मिलता है, बशर्ते इसके लिए आपको यात्रा के तीन दिन के अंदर अपनी टिकट को कैंसिल करवाना होता है। वहीं, 12 घंटे पहले कंफर्म टिकट कैंसिल कराने पर 25% चार्ज और ट्रेन के स्टेशन छोड़ने के 12 से 4 घंटे पहले तक टिकट कैंसिल कराने पर ये चार्ज 50% लगता है।
  • कंफर्म टिकट को ट्रेन छूटने से 48 घंटे पहले तक कैंसिल करा सकते हैं। इसमें आपको एसी फर्स्ट क्लास (AC First Class) के लिए 240 रुपये, एसी टू टियर के लिए 200 रुपये, स्लीपर क्लास के लिए 120 रुपये, टू सिटर के लिए 60 रुपये, एसी थ्री टियर और एसी चेयर कार के लिए 180 रुपये का कैंसिलेशन चार्ज देना होता है।
  • अगर आप वेटिंग या RAC की स्लीपर क्लास की टिकट को ट्रेन छूटने से 30 मिनट पहले तक कैंसिल करा लेते हैं, तो ऐसे में आपके टिकट पर 60 रुपये कैंसिलेशन चार्ज के रूप में काटे जाते हैं।
  • अगर आप तत्काल टिकट को कैंसिल कराने की सोच रहे हैं, तो आपके लिए जानना जरूरी है कि रेलवे के नियम के मुताबिक इसमें आपको कोई रिफंड राशि नहीं मिलती है।