सरकारी कर्मचार‍ियों का DA बढ़ेगा या नहीं? यहां अपना कन्फ्यूजन दूर कर लीजिए..

Govt Scheme

डेस्क : गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और त्रिपुरा समेत कई राज्य सरकारों ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की घोषणा की है. हालांकि अभी केंद्रीय कर्मचारियों के डीए पर फैसला नहीं लिया गया है। लेकिन सरकार सितंबर के पहले सप्ताह में कोई घोषणा कर सकती है। हालांकि, सरकार की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। हाल ही में केंद्रीय राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने लोकसभा में साफ कर दिया है कि फिलहाल आठवां वेतन आयोग नहीं आएगा.

मार्च में बढ़ा कर्मचारियों का महंगाई भत्ता : 7वें वेतन आयोग के तहत केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता पिछली बार मार्च में 3 फीसदी बढ़ाया गया था, उस समय इसे 31 से बढ़ाकर 34 फीसदी किया गया था. उस समय, डीए वृद्धि 1 जनवरी से लागू हुई थी और कर्मचारियों को दो महीने के बकाया के साथ भुगतान किया गया था। नियमानुसार हर छह महीने में डीए बढ़ाना चाहिए। इसी के तहत जुलाई से कर्मचारियों का डीए बढ़ाया जाना है

डीए में कितनी होगी बढ़ोतरी : सरकार AICPI-IW (All India Consumer Price Index – Industrial Workers) इंडेक्स के डेटा का इस्तेमाल यह तय करने के लिए करती है कि कर्मचारियों का महंगाई भत्ता कितना बढ़ेगा। AICPI-IW डेटा का पहला भाग जारी किया गया है। जून में इंडेक्स 129.2 पर पहुंच गया। इंडेक्स में तेजी से डीए में 4 फीसदी का इजाफा होना तय है।

38 फीसदी डीए का पैसा कब आएगा : महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़कर 38 फीसदी हो जाएगा। अगर सितंबर की शुरुआत में इसकी घोषणा की जाती है तो बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता सितंबर 2022 के वेतन में दिया जाएगा। ऐसे में जुलाई व अगस्त का बकाया भी शामिल होगा। देखिए 4 फीसदी डीए से कितना बढ़ेगा मिनिमम और मैक्सिमम बेसिक पे?

ये भी पढ़ें   LIC की इस स्कीम में सिर्फ इतने हजार रूपए लगाने पर मिलेंगे 48 लाख से ज्यादा का रिटर्न

अधिकतम मूल वेतन पर गणना

  1. कर्मचारी का मूल वेतन 56,900 रुपये
  2. नया महंगाई भत्ता (38%) रु.21,622/माह
  3. अब तक का महंगाई भत्ता (34%) रु.19,346/माह
  4. कितना बढ़ा महंगाई भत्ता 21,622-19,346 = 2260/माह
  5. वार्षिक वेतन में वृद्धि 2260 X12 = रु.27,120

न्यूनतम मूल वेतन पर गणना

  1. कर्मचारी का मूल वेतन रु.18,000
  2. नया महंगाई भत्ता (38%) रु.6840/माह
  3. अब तक का महंगाई भत्ता (34%) रु.6120/माह
  4. कितना बढ़ा महंगाई भत्ता 6840-6120 = रु.1080/माह
  5. वार्षिक वेतन में वृद्धि 720X12 = रु