May 19, 2022

सरसों तेल के भाव सातवें आसमान से धड़ाम! दर्ज की गई भारी गिरावट- फटाफट करें खरीदारी..

Sarso Tel Rate gone High

डेस्क : मौजूदा समय में देश में महंगाई की मार चल रही है। पेट्रोल -डीजल से लेकर खाद पदार्थ के दामों में लगातार बढ़ोतरी जारी है। ऐसे में आम लोगों के लिए एक राहत भरी खबरें सामने आई है। ताजा जानकारी के मुताबिक, अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में गिरावट के रुख के बीच खाने के तेल की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है।

वित्त वर्ष खत्म होते ही खाने के तेल की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है वहीं, साधारण मांग के चलते सोयाबीन तिलहन की कीमतों में सुधार देखने को मिला है। वही, बाजार के सूत्रों ने कहा कि बीते सप्ताह वार्षिक लेखाबंदी की वजह से कारोबार सीमित होने से कीमतों में गिरावट आई है। इसके अलावा शनिवार से नवरात्र की शुरुआत हुई है, जिसकी वजह से घरेलू के साथ-साथ कारोबारी मांग घटने से यह गिरावट और बढ़ गई।

ताजा जानकारी के मुताबिक, मंडियों में आवक बढ़ने से जहां सरसों तेल-तिलहन में गिरावट आई है। वहीं, ऊंचे भाव पर मांग कमजोर रहने और विदेशी बाजारों में गिरावट आने की वजह से सीपीओ और पामोलीन तेल के भाव भी गिरावट दर्शाते बंद हुए। सूत्रों ने बताया कि विदेशी बाजारों में मंदी और मंडियों में स्थानीय आवक बढ़ने के कारण पिछले हफ्ते के मुकाबले बीते सप्ताह सरसों दाने का भाव 150 रुपये घटकर 7,475-7,525 रुपये प्रति क्विंटल रह गया। सरसों दादरी तेल 320 रुपये घटकर समीक्षाधीन हफ्ते में 15,000 रुपये क्विंटल पर बंद हुआ। वहीं, सरसों पक्की घानी और कच्ची घानी तेल की कीमतें भी 45-45 रुपये की फिसलकर 2,375-2,450 रुपये और 2,425-2,525 रुपये टिन (15 किलो) पर बंद हुईं।