9 February 2023

Loan नही चुकाने पर भी Bank आपको नहीं करेगा परेशान, जानें – अपने अधिकार..

bank loan

यदि आपने किसी भी तरह का लोन बैंक से लिया है और आप उसे चुका नहीं पा रहे हैं तो अब ज्यादा न घबराएं। अब लोन के लिए बैंक आपको ज्यादा परेशान नहीं करेगा। क्योंकि आपके पास कुछ ऐसे अधिकार हैं जिनको आपको जरूर जानना चाहिए। यदि आप अपने अधिकारों से अवगत नहीं हैं तो हम आपको बैंक से जुड़ी सभी जानकारी आज इस रिपोर्ट में दे रहे हैं।

जिसके बाद लोन से जुड़ी किसी भी बात पर कोई कर्मी आपको परेशान नहीं करेगा। कई लोग अपनी बड़ी जरूरत जैसे कार खरीदने (Car Loan), बच्चों की पढ़ाई (Education Loan) और शादी, बिजनेस बढ़ाने (Business Loan) और घर खरीदने के काम (Home Loan) के लिए बैंक से लोन लेते हैं। इतना ही नहीं ग्राहकों को लुभाने के लिए बैंक भी अब कई आकर्षित ऑफर्स पेश करने लगी है। A

किसी भी तरह का लोन एक बड़ी वित्तीय जिम्मेदारी है। समय से अपने लोन की ईएमआई ग्राहक को चुकानी होती है। ऐसे में यदि कोई कस्टमर लोन लेने के बाद फिक्स्ड डेट तक लोन की किस्त वापस नहीं करता है तो ऐसी स्थिति में बैंक ग्राहकों को कॉल और मैसेज भेजने लगते हैं। कई बार ऐसा हुआ है कि बैंकों के रिकवरी एजेंट ग्राहकों को पैसे न देने के कारण डराया और धमकाया भी जाता हैं। यदि आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो इस मामले में आरबीआई ग्राहकों के लिए कुछ नियम बनाए हैं। कोई बैंक यदि ग्राहकों को लोन के पैसे न चुकाने की स्थिति में डराता-धमकाता है, तो इसकी शिकायत ग्राहक पुलिस से करके खुद के लिए पेनल्टी भी मांग सकता है।

ऐसे हालात में करें शिकायत
निश्चित तौर पर बैंक को लोन में दिए गए पैसों को वसूलने का अधिकार है पर इसके लिए उन्हें कुछ आरबीआई द्वारा बनाए गए नियमों का भी पालन करना ज़रूरी है। तो आज आपको बताते हैं वहीं नियम।

  • बैंक का ऑफिसर या रिकवरी एजेंट डिफॉल्टर को सुबह 7 बजे से लेकर शाम सात बजे के बीच में ही कॉल कर सकता है।
  • डिफॉल्टर के घर जाने का समय भी 7 बजे सुबह से लेकर शाम 7 बजे तक का ही है।

ध्यान रहे यदि इस समय के बाहर कोई आपके बैंक का प्रतिनिधि आपके घर पर आता है या कॉल करता है तो आप इसकी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

बदसलूकी का अधिकार किसी को नहीं
यदि कोई भी ग्राहक अगले 90 दिनों के भीतर पैसे जमा नहीं करता है तो बैंक नोटिस जारी करेगी। जिसके बाद 60 दिनों का समय मिलता है। इसके बाद भी यदि व्यक्ति पैसे जमा नहीं करता है तो बैंक उसकी गिरवी रखी संपत्ती यानी घर, कार बेचकर अपने पैसों की वसूली कर सकती है। यदि आपने बैंक से लोन किया है और उसे नहीं चुका पा रहे हैं तो बैंक आपको इसकी रिकवरी के लिए संपर्क कर सकता है। पर बैंक को किसी भी डिफॉक्टर से बदतमीजी या बदसलूकी करने का अधिकार नहीं है। अगर कोई आपको मानसिक या शारीरिक रूप से प्रताड़ित करता है तो आप इसकी शिकायत बैंक से कर सकते हैं।