4 February 2023

खुशखबरी! नए साल का आते ही सस्ता हुआ सरसों का तेल – नया MRP जान झूम उठेंगे आप..

Mustard Oil Price

डेस्क : मलेशिया एक्सचेंज में गिरावट के दौरान दिल्ली तेल तिलहन बाजार में इसी गुरुवार को मूंगफली तेल तिलहन को छोड़कर बाकी लगभग सभी खाद्य तेल तिलहनों में गिरावट भी आई. मलेशिया एक्सचेंज में फिलहाल लगभग 2 प्रतिशत की गिरावट है जबकि शिकॉगो एक्सचेंज कल रात को बगैर घट बढ़ के साथ ही बंद हुआ था और फिलहाल यहां यही रुख बरकरार भी है.

बाजार के जानकार सूत्रों ने बताया है कि शिकॉगो एक्सचेंज में 0.1 फीसदी की मामूली तेजी होने के बावजूद थोक बाजार में भाव 4 रुपये किलो घट गये. यानी पहले जो 10 से 12 रुपये किलो अधिक प्रीमियम के साथ कमाई की जा रही थी वह अब घटकर 6 से 8 रुपये किलो रह गया है. मगर खुदरा बाजार में दाम अब भी मनमाने ढंग से बढ़ाया ही हुआ है. कमाई के इस मार्जिन में गिरावट का असर बाकी अन्य तेल तिलहनों पर भी दिखा और उनके दाम में कमी दर्ज की गयी है.

इसका उत्पादन रह सकता है बंपर

सूत्रों ने कहा कि अगले माह तक मंडियों में सरसों की फसल आने की भी संभावना है और इस बार उत्पादन बंपर रहने की भी उम्मीद है. सरसों के इस बंपर उत्पादन की उम्मीद से इसकी कीमतों पर दबाव को देखते हुए किसान अपने बचे खुचे स्टॉक को भी बाजार में ला भी रहे हैं. सस्ते आयातित तेलों की देश में भरमार के बीच असली दिक्कत सरसों को खपने को लेकर ही है जिसकी वजह से सरसों तेल तिलहन के दाम में गिरावट भी दर्ज की है.