Post Office Scheme : पति पत्‍नी को हर माह मिलेंगे 5000 रूपये, करना होगा सिर्फ एक बार निवेश..

post office scheme

डेस्क : अगर आपने पैसा बचाया है और उसे किसी ऐसी जगह निवेश करना चाहते हैं जहां से आप हर महीने कमा सकते हैं। हम आपको डाकघर की एक ऐसी योजना के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसमें एक बार निवेश करके आप घर बैठे हर महीने निश्चित आय अर्जित कर सकते हैं।

Rupees Cash on FD

इसमें आप सिंगल या ज्वाइंट अकाउंट खोल सकते हैं। अगर आप ज्वाइंट अकाउंट खोलना चाहते हैं तो यह पति-पत्नी के लिए बेहतर है। हम जिस योजना की बात कर रहे हैं उसका नाम डाकघर मासिक आय योजना है। इसमें पति-पत्नी एकमुश्त राशि जमा कर हर महीने 4950 रुपये प्राप्त कर सकते हैं। यह योजना 5 साल के लिए है, जिसे आगे 5 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।

rupees-for-fd

6.6 फीसदी ब्याज मिलता है : डाकघर मासिक आय योजना में पैसा जमा करने में कोई जोखिम नहीं है क्योंकि डाकघर में निवेश किए गए धन की सुरक्षा की गारंटी सरकार द्वारा दी जाती है। डाकघर मासिक आय योजना में सालाना 6.6 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा।

एकल या संयुक्त खाता आसानी से खोला जा सकता है : डाकघर मासिक आय योजना में आप एकल या संयुक्त खाता खोल सकते हैं। एक एकल खाताधारक अधिकतम 4.5 लाख रुपये एकमुश्त जमा कर सकता है जबकि संयुक्त खाता रखने वाले 9 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। एक ज्वाइंट अकाउंट में अधिकतम 3 लोग हो सकते हैं। माता-पिता अपने नाबालिग बच्चों के नाम पर भी खाता खोल सकते हैं।

59 हजार 400 रुपये सालाना मिलेंगे : इस योजना (डाकघर मासिक आय योजना) में संयुक्त खाता खोलकर आप अधिकतम 9 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। ऐसे में आपको 6.6 फीसदी ब्याज की दर से 59 हजार 400 रुपये सालाना मिलेंगे. महीने दर महीने देखें तो आपको हर महीने 4 हजार 950 रुपये मिलेंगे। इसी तरह एक खाते में एकमुश्त 4.5 लाख रुपये जमा करने पर 6.6 फीसदी की दर से 29 हजार 700 रुपये का ब्याज दिया जाएगा. अगर इसे महीनों में बांटा जाए तो हर महीने आपको 2 हजार 475 रुपये की गारंटी मिलेगी.

ये भी पढ़ें   यह 1 रूपये का नोट बेच कर घर बैठे कमाए ₹7 लाख रूपये, जानें- क्या है तरीका?

खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज : अगर आप मासिक आय योजना में खाता खोलना चाहते हैं तो आपके पास डाकघर योजना में बचत खाता होना चाहिए। आप 1000 रुपये में खाता खोल सकते हैं। आपके पास आधार कार्ड या पासपोर्ट या वोटर आईडी या ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए। एड्रेस प्रूफ सरकार द्वारा जारी आईडी कार्ड या यूटिलिटी बिल होना चाहिए। फॉर्म में नॉमिनी का नाम भी देना होगा।