5 February 2023

वाह गुरु जी! 42 की उम्र में 20 वर्षीया छात्रा से रचाया विवाह – इंग्लिश पढ़ने कोचिंग जाती थी लड़की..

वाह गुरु जी! 42 की उम्र में 20 वर्षीया छात्रा से रचाया विवाह - इंग्लिश पढ़ने कोचिंग जाती थी लड़की.. 1

न्यूज डेस्क: बिहार अपने करिश्माई कारनामों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहा है। हम फ्लैशबैक में चले तो इसी राज्य से मटुकनाथ और जूली की प्रेम कहानी काफी मशहूर रही। जिसके बाद मटुकनाथ पर बेवफाई का कई संगीन आरोप भी लगे। अब हम आते हैं आज की बात पर। बिहार के समस्तीपुर से ऐसी ही एक खबर सामने आ रही है। यह खबर गुरु और शिष्य की प्रेम कहानी की है। जिले के एक 42 साल के शिक्षक अपनी 20 साल की छात्रा के साथ प्रेम विवाह कर ली है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

हम बात कर रहे हैं समस्तीपुर जिले के रोसड़ा बाजार की रहने वाली 20 साल की छात्रा और 42 साल के शिक्षक के प्रेम कहानी की। यह प्रेम कहानी आपको अटपटा लग सकता है लेकिन ऐसा कहा गया है कि प्रेम में उम्र और धर्म नहीं देखा जाता। शिक्षक और छात्रा दोनों में प्रेम प्रसंग चला इसके बाद अब शादी रचा ली है। इस प्रेम विवाह को लेकर लोगों के तरह तरह के प्रतिक्रिया सामने आ रहे हैं। जिसमें एक बड़ा तबका इस प्रेम विवाह को गुरु शिष्य के रिश्ते को बदनाम करना बता रहा है। वहीं एक तबका ऐसा भी है जो इसे मटुकनाथ और जूली के प्रेम कथा से जोड़ रहे हैं।

कोचिंग वाला प्यार शादी में बदला

इस संबंध में स्थानीय लोगों ने बताया कि श्वेता कुमारी रोसड़ा बाजार स्थित संगीत कुमार की कोचिंग में अंग्रेजी पढ़ने आती थी। वहीं दोनों में प्यार शुरू हो गया। फिर दोनों ने लव मैरिज की। बाद में उन्हें कानूनी मान्यता दिलाने के लिए उन्होंने कोर्ट मैरिज की थी। दोनों रोसड़ा बाजार के रहने वाले हैं। दोनों के घर की दूरी करीब 800 मीटर है। शिक्षक की पत्नी की कई साल पहले मौत हो गई थी।

मटूकनाथ और जूली

हमने आपको शुरू में मटुकनाथ के बारे में संक्षेप में बताया अब जान लेते हैं कि यह मटुकनाथ कौन थे। मटुकनाथ पटना यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर थे जिन्हें उनके ही छात्रा ने दिल दे बैठी थी। यह छात्रा मटुकनाथ से 30 साल छोटी थी इसका नाम जूली है। बीते सालों एक रिपोर्ट के मुताबिक जूली इन दिनों वेस्टइंडीज के किसी शहर में जिंदगी और मौत के बीच लड़ रही है। वहीं एक समय ऐसा था जब दोनों के प्यार को लैला मजनू और हीर रांझा का ओहदा दिया जाता था। लेकिन अब वही मटुनाथ जूली से मिलना तक उचित नहीं समझ रहे हैं। एक साक्षात्कार में सिंगर देवी ने बताया कि हमने मटुकनाथ और जूली दोनों से संपर्क किया और प्रोफेसर मटुकनाथ जी से कहा कि जूली को आपकी सहायता की जरूरत है लेकिन उन्होंने इस पर कुछ जवाब नहीं दिया।

बिहार के रहने वाले मटुकनाथ पटना यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर थे। प्रोफेसर मटुकनाथ ने एक कैंप लगाया था। इस कैंप में यूनिवर्सिटी की स्टूडेंट जूली भी पहुंची थी। इस दौरान दोनों के बीच बातचीत हुई। दोनों ने एक-दूसरे का नंबर लिया। इसके बाद दोनों के बातचीत शुरू हो गई। वहीं, मटुकनाथ पहले से शादीशुदा थे और उनके बच्चे भी थे। इस प्यार के लिए मटुकनाथ ने अपनी शादी को भी दांव पर लगा दिया और नौकरी से भी हाथ धोना पड़ा। इसके बावजूद दोनों खुलकर इश्क फरमाते रहे।

दोनों की तस्वीरें अखबरों में छपने लगी और मटुकनाथ लव गुरु के नाम से फेमस हो गए। मटुकनाथ और जूली की एक तस्वीर काफी वायरल हुई थी, जिसमें मटुकनाथ जूली को रिक्शा पर बिठाकर उसे चलाते हुए नजर आए थे। इतना ही नहीं इस प्रेम कहानी के चक्कर में मटुकनाथ को जेल तक जाना पड़ा। बाद इस प्रेम कहानी की तस्वीर पूरी तरह बदल गई। दोनों के बीच दूरियां इतनी बढ़ गई कि जूली सात समंदर पार जिंदगी और मौत से जूझ रही है और मटुकनाथ आज भी घर में जूली की तस्वीर निहारते रहते हैं।