बिहार में दूसरे एक्सप्रेसवे निर्माण को लेकर तैयारी शुरू, .. 695 किमी लंबा होगा यह आठ लेन का रास्ता-इन 9 जिलों से होकर गुजरेगा

Bihar Second Expressway Bihar

डेस्क: बिहार धीरे-धीरे स्मार्ट बनता दिख रहा है, बता दें कि हाल ही के दिनों में यूपी में नए एक्सप्रेस-वे का निर्माण किया गया था, यहां तक कि बिहार में भी भारत माला परियोजना फेज -2 के तहत पटना-कोलकोत्ता के बीच नए एक्सप्रेस- वे बनाए जाने की बात कही गई थी। अब खबर आ रही है कि बिहार में दूसरा एक्सप्रेस-वे का भी निर्माण होगा, जो रक्सौल से हल्दिया के बीच बनेगा

जानकारी के लिए आपको बता दें की यह दूसरा एक्सप्रेसवे 6 से 8 लाइन के बीच बनाया जाएगा, जिसका निर्माण कार्य अगले वर्ष शुरू हो जाएगा, जिसकी लंबाई करीब 695 किलोमीटर होगी, अगर लागत की बात करें तो सरकार द्वारा 54 हजार करोड़ रुपए खर्च होने की बात कही गई है, इसका निर्माण कार्य समाप्त होने की तिथि 2024-25 तक रखी गई है, फिलहाल या एक्सप्रेसवे का डीपीआर तैयार किया जा रहा है

राज्य के इन 9 जिलों से होकर गुजरेगी: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह दूसरा एक्सप्रेसवे पूरी तरीके से ग्रीनफील्ड होगा, और इसमें बीच में नहीं चढ़ा जा सकेगा। बता दे सूबे के इन 9 जिलों से होकर गुजरेगी, जिसमें पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, मुजफ्फरपुर, सारण, पटना, बिहारशरीफ, शेखपुरा, जमुई और बांका शामिल हैं, इसके बाद यह एक्सप्रेस-वे झारखंड में प्रवेश कर सरैयाहाट, नोनीहाट व दुमका से पश्चिम बंगाल के पानागढ़ से हल्दिया पोर्ट चला जायेगा।

पटना के इन सड़कों का होगा जुड़ाव: मिली जानकारी के मुताबिक, दूसरा एक्सप्रेस वे में पटना के रिंग रोड को भी शामिल कर दिया जाएगा, बता दे की इस एक्सप्रेस-वे का एलाइनमेंट के रक्सौल से दिघवारा आकर प्रस्तावित पटना रिंग रोड में जुड़कर कच्ची दरगाह-बिदुपुर से होकर पटना-कोलकाता एक्सप्रेस-वे में जुड़ेंगे, फिर बांका होते हुए सरैयाहाट, नोनीहाट व दुमका से पश्चिम बंगाल के पानागढ़ से हल्दिया पोर्ट तक होगा।

You cannot copy content of this page