2 February 2023

चायवाली Priyanka Gupta का स्टॉल उठा ले गए रोत को, रो-रोकर बोली- अब Patna छोड़ रहे…

चायवाली Priyanka Gupta का स्टॉल उठा ले गए रोत को, रो-रोकर बोली- अब Patna छोड़ रहे… 1

न्यूज डेस्क : बिहार की राजधानी पटना की ग्रैजुएट चाय वाली अब किसी परिचय की मोहताज नहीं है। बीते महीने पटना विमेंस कॉलेज के सामने ग्रेजुएट चाय वाली के नाम से एक स्टॉल लगाकर सोशल मीडिया में बनी रही बनी रही। लोग ग्रेजुएट चाय वाली प्रियंका गुप्ता को काफी सराहा भी। इसके बाद प्रियंका गुप्ता ने अपने स्टाल को पटना बोरिंग रोड में शिफ्ट कर लिया। पटना में प्रियंका गुप्ता का कई फ्रेंचाइजी रन हो रहा है।

बता दें कि पटना नगर निगम के द्वारा बीते कुछ दिनों पहले इनके ठेले को हटाया गया था। इस घटना के बाद ग्रेजुएट चाय वाली उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव तक पहुंच गई थी। वहीं अब प्रियंका गुप्ता का एक रोने वाली वीडियो काफी वायरल हो रहा है। इसमें बता रही हैं कि फिर से उनका ठेला हटा दिया गया है। और वे अब बिहार के सिस्टम से हार मान मान गई है।

वायरल हो रहे वीडियो में प्रियंका गुप्ता रो रही हैं। रोते हुए वे कहती हैं आप सब मुझे जान रहे होंगे। मैं ग्रेजुएट चाय वाली। सो कॉल्ड ग्रेजुएट चाय वाली। हम अपनी औकात भूल गए थे। मुझे लगा कि मैं बिहार में कुछ अलग करूंगीz लेकिन यहां की सिस्टम से मैं अब हार मान रही हूं। वे आगे कहती हैं यहां महिलाओं की औकात सिर्फ चूल्हे चौके तक सीमित है। प्रदेश में ड़कियों को आगे बढ़ने का कोई हक नहीं है।

यह वीडियो सोमवार सुबह इंस्टाग्राम पर डाला गया। जिसके बाद कुछ ही क्षणों में वायरल हो गया। इसमें प्रियंका गुप्ता नगर निगम को काफी सुना रही हैं। कहा कि पटना में कई सारे अवैध ठेले लगाए जाते हैं, शराब अवैध तरीके से बेची जाती हैं। लेकिन उनके लिए सिस्टम एक्टिव नहीं है। वहीं कोई लड़की अपना बिजनेस करें तो उनको परेशान करते हैं। उन्हें इतना तक कहा कि मेरे जितने भी फ्रेंचाइजी बुक हुए हैं मैं उनका पैसा लौटा रही हूं और हम जा रहे हैं।

दरअसल बोरिंग रोड में जिस स्थान पर प्रियंका गुप्ता ग्रेजुएट चायवाली के नाम से ठेला लगा रही थी। वहां से ठेला अचानक गायब हो गया। जिसके बाद प्रियंका गुप्ता सोशल मीडिया पर आकर काफी रोती बिलखती नजर आई। उन्होंने कहा बिना इनफॉर्म किए ठेला हटा लिया गया है। इन सब का आरोप नगर निगम पर लगा रही हैं। ग्रेजुएट चाय वाली का कहना है कि मैं कमिश्नर सर से परमिशन ले ली थी तब मुझे क्यों परेशान किया जा रहा है। आगे कहती है थैंक्यू नगर निगम हम वापस जा रहे हैं।