May 19, 2022

गुड न्यूज! बिहार के 26 जिलों में 75 इलेक्ट्रिक Charging Station बनकर हुआ तैयार, यहां देखें पूरी लिस्ट..

Bihar EV Station new

न्यूज़ डेस्क : देश में इलेक्ट्रिक वाहनों में काफी बृद्धि देखी जा रही है। ऐसे में इसे चार्ज करने के लिए पर्याप्त चार्जिंग स्टेशन बैठाए जा रहे हैं। ऐसे में बिहार के कई जिलों चार्जिंग स्टेशन स्थापित किया जा चुके हैं। यह सार्वजनिक पेट्रोलियम कंपनियों के पेट्रोल पंप पर स्थापित किये गए हैं।

हालांकि राज्य में अभी इलेक्ट्रिक वाहनों की कम संख्या होने के चलते चार्जिंग स्टेशन सुचारू रूप से नहीं चल पा रहे हैं। चार्जिंग स्टेशन की आंकड़ो की बात करें तो यह सासाराम में सबसे ज्यादा नौ चार्जिंग स्टेशन लगाएं गए हैं। वहीं मुजफ्फरपुर में 8 चार्जिंग स्टेशन, पटना में 5, पूर्वी चंपारण 6, सुपौल 6 और समस्तीपुर में 6 चार्जिंग स्टेशन फिलहाल स्थापित किये जा चुके हैं।

राज्य में 150 इवी चार्जिंग स्टेशन तैयार : इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन और दो अन्य सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों (BPCL और HPCL) ने राज्य में 150 EV चार्जिंग स्टेशन लगाने का काम पूरा कर लिया है। इनमें इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन की ओर से 75 चार्जिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं। इसमें पटना जिले के सुमन ऋषि फ्यूल्स (जहानाबाद), अर्जुन फ्यूल सेंटर (पाली), लगान गौरव किशन सेवा केंद्र (मसूरी, धनरवा), मंजू पेट्रोलियम (मसुधी) और विनायक सर्विसेज (कानापा) शामिल है। इसके साथ ही अन्य 26 जिलों में चार्जिंग स्टेशन तैयार किए गए हैं, लेकिन व्यवसायिक काम शुरू नहीं हो सका है।

2070 तक शून्य उत्सर्जन का लक्ष्य : सार्वजनिक तेल कंपनियों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इससे 2070 तक देश में शुद्ध-शून्य उत्सर्जन का लक्ष्य पाने में काफी सहायता मिलेगी। साल 2022-23 में IOC ने 70 और चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने का टारगेट रखा है। वर्तमान में लगभग 40 BPSL और लगभग 35 HPCL पेट्रोल पंपों पर इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने की सुविधा उपलब्ध है। इंडियन ऑयल का लक्ष्य आगामी वर्षों में लगभग 10,000 पेट्रोल पंपों पर ईवी चार्जिंग सुविधा स्थापित करना है।