बिहार के बेगूसराय में खुलेगा देश का आठवां नैनो यूरिया प्लांट, जानिए क्या होगा खास –

Barauni Urea Plant HURL

डेस्क : बिहार इन दिनों प्रगति की ओर अग्रसर है। लगातार अलग-अलग क्षेत्रों में नए-नए उद्योगों को बढ़ावा दिया जा रहा है। खासकर, औद्योगिक राजधानी बेगूसराय में विगत कुछ वर्षों में कई बड़े उद्योगों का निर्माण कराया गया। अभी से बीते कुछ महीनों पहले बिहार के सीएम नीतीश कुमार और उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज के नेतृत्व में पेप्सी प्लांट का उद्घाटन किया गया।

इसी बीच अब खबर निकल कर आ रही है कि बिहार के बेगूसराय में देश का आठवां नैनो यूरिया की फैक्ट्री लगाई जाएगी। जिससे लोगों को रोजगार भी मिलेगा और नैनो यूरिया कृषि के क्षेत्र में बेहद ही उपयोगी साबित होगा। जानकारी के लिए आपको बता दें कि यह नैनो यूरिया का आठवां प्लांट बेगूसराय के बरौनी में लगाया जाएगा। जिससे आसपास के किसान भाइयों को ईको फ्रेंडली यूरिया उपलब्ध हो पाएगा। जानकारी देते हुए केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि देश के अंदर प्रतिवर्ष 325 लाख मैट्रिक टन से लेकर 350 लाख मैट्रिक टन की खपत है।

जबकि, देश के अंदर हमारा घरेलू उत्पादन 240 लाख टन प्रतिवर्ष है। ऐसी स्थिति में 2019 में भारत सरकार के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच यूरिया प्लांटों की आधारशिला रखी। जिसमें गोरखपुर ने अपना काम करना शुरू कर दिया है और उसके बाद बरौनी और सिंदरी से भी जल्द ही यूरिया उत्पादन का काम करना शुरू हो जाएगा। आगे उन्होंने कहा कि प्रत्येक इकाइयों से 12.5 लाख मैट्रिक टन यूरिया का उत्पादन होगा जिससे देश में 65 लाख मैट्रिक टन की हमारी क्षमता और बढ़ जाएगी। बरौनी यूनिट से भी अक्टूबर 2022 तक उत्पादन कार्य शुरू हो जाएगा।

ये भी पढ़ें   बेगूसराय समेत इन 11 जिलों में नई तकनीकी के साथ होगा खेती, अब आम के साथ उगाए जाएंगे मसाले.. जानें -