May 18, 2022

पीएम पद से इस्तीफा देने के बाद भी Sri Lanka में जारी हिंसा, महिंदा राजपक्षे को नौ सेना बेस पर भी जान का खतरा

sri lanka ke halaat kharab

डेस्क : श्रीलंका में दंगा थमने का नाम नहीं ले रही है। सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि इस्तीफे के बाद पूर्व प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे अपने परिवार समेत त्रिंकोमाली नौसेना बेस पर शरण ली है। जो द्विपक्षीय देश का उत्तर पूर्वी हिस्सा है। इस समय श्रीलंका अपने सबसे बुरे आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है। महिंदा राजपक्षे और उनकी पूरी फैमिली हेलीकॉप्टर में बैठकर नौसेना बेस की तरफ भागे।

इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि नौसेना बेस के बाहर भी दंगाइयों ने घात लगाया है। राजधानी कोलंबो से यह लगभग 270 किलोमीटर दूर है। श्रीलंका में अभूतपूर्व आर्थिक संकटों के बाद कई दिनों से चल रहा है विरोध प्रदर्शन में 5 लोगों के मारे जाने के बाद अनिश्चितकाल तक के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया है। वही दंगे में करीब 200 लोग घायल हुए। महिंदा राजपक्षे के पीएम पद से इस्तीफा देने के बाद भी हिंसा लगातार भड़की हुई है। सोमवार की देर शाम प्रधानमंत्री को सैन्य अभियान में निकाला गया। हजारों सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने पीएम आवास को घेर रखा था। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और हवाई फायरिंग की।

समाचार एजेंसी एफपी को टॉप सिक्योरिटी अधिकारियों ने बताया कि कम से कम 10 पेट्रोल बम प्रधानमंत्री आवास पर फेंके गए। वहीं राष्ट्रपति गोताबाया राजपक्षे ने दंगाइयों से शांत रहने और हिंसा रोकने की अपील की है। ट्विटर पर उन्होंने एक पोस्ट कर कहा कि मैं सभी पक्षियों के राजनैतिक झाड़ू और समर्थकों से अपील करता हूं कि शांति बनाए रखें। आपसी सहमति और साझा समझते आर्थिक संकट के निपटारे का हल ढूंढा जाएगा। आपको बता दें कि प्रदर्शनकारियों के तरफ़ से राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के इस्तीफे की मांग 9 अप्रैल से ही की जा रही है।

You may have missed