May 18, 2022

बदतर हो चुकी है श्रीलंका की हालत! हिंसा करने वालों के खिलाफ शूट एट साइट का आर्डर जारी

sri lanka

डेस्क : श्रीलंका के घर हालत बेहद खराब हो चुकी है। परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए प्रदर्शनकारियों के लिए रक्षा मंत्रालय की तरफ से एक आदेश जारी किया गया है। मंत्रालय की तरफ से लिए गए फैसले में हिंसा करने वालों के खिलाफ शूट एंड साइट का आर्डर दिया गया है। दरअसल ये फैसला श्रीलंका के कई शहरों में चल रहे खूनी संघर्ष को ध्यान में रखकर लिया गया है।

श्रीलंका की सेना को आदेश दिया गया है क्या दंगाइयों को देखते हैं उन्हें गोली मार दिया जाए। यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है जो हाल ही में प्रधानमंत्री महिंद्रा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद श्रीलंका में हिंसा भड़क उठी। श्रीलंका में हिंसा इस कदर भड़क उठी है कि दंगाइयों ने पूर्व प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री महिंद्रा राजपक्षे के पैतृक घर में भी आग लगा दिया।

वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने ट्विटर के जरिए प्रदर्शनकारियों से अपील की कि चाहे वह किसी भी पार्टी से हो इस हिंसा को रोकने और शांति कायम रखें। बदले की कार्रवाई नागरिकों के खिलाफ ना करें। दुनिया भी कहा कि संवैधानिक जनादेश और आम सहमति के द्वारा राजनीतिक स्थिरता बहाल करने और देश के आर्थिक संकट को दूर करने के लिए सभी कोशिशें की जाएगी।

देश में से पहले इमरजेंसी लागू कर दी गई है। पूरे देश में पुलिस कर्फ्यू लागू कर दिया है बावजूद इसके हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। इसी क्रम में महिंदा राजपक्षे के बेटे ओर खेल मंत्री नमल ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि इस तरह की अफवाहें हैं कि उनके पिता देश छोड़कर भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम ऐसा नहीं कर सकते हैं। ने बताया कि मेरे पिताजी सुरक्षित है और एक सुरक्षित स्थान पर है। वह घर वालों से बात कर रहे हैं।

बता दें कि सोमवार को महिंदा राजपक्षे ने राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के कहने पर पद से इस्तीफा दे दिया था। ऐसा बताया जा रहा है कि देश में आए राजनीतिक संकट को लेकर राष्ट्रपति प्रधानमंत्री और उनके कुछ खास लोगों के साथ बैठक भी हुई थी जिसमें राष्ट्रपति ने महिंदा राजपक्षे से इस्तीफा देने की बात कही थी। महिंदा राजपक्षे के पीएम पद से इस्तीफा देने के बाद देश में दंगा भड़क उठा है।

You may have missed