प्रखंड में पांच दिवसीय चहक प्रशिक्षण की शुरुआत

Traning

तेघरा (बेगूसराय) चहक मॉड्यूल आधारित पांच दिवसीय प्रशिक्षण की शुरुआत तेघरा प्रखंड के कई प्रशिक्षण केंद्रों पर की गई। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा बच्चों में भाषा, बुनियादी साक्षरता,संख्या ज्ञान के साथ ही आनंददायक माहौल में सीखने सिखाने की प्रक्रिया को विकसित करने के उद्देश्य से चहक मॉड्यूल आधारित पांच दिवसीय प्रशिक्षण की शुरुआत तेघरा प्रखंड के राष्ट्रीय उच्च विद्यालय, संकुल मध्य विद्यालय गौरा एक आदि प्रशिक्षण केंद्रों पर विभिन्न विद्यालयों के प्रधानाध्यापक प्रशिक्षण ले रहे हें।

मध्य विद्यालय गौरा एक संकुल संसाधन केंद्र पर चल रहे प्रशिक्षण में कुल 51 विद्यालय के प्रधानाध्यापकों को प्रशिक्षण देते हुए मास्टर ट्रेनर बंदना कुमारी ने बताया कि इस प्रशिक्षण के माध्यम से बच्चों के संपूर्ण विकास में आनंददाई शिक्षा के साथ ही गतिविधियो को शामिल करना काफी आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि बच्चों का भाषा विकास, शारीरिक विकास, सामाजिक एवं मानसिक विकास, संख्यात्मक ज्ञान की विकास के अलावे पर्यावरण के प्रति भी लगाव बढ़ेगा। प्रशिक्षण में भाग ले रहे प्रधानाध्यापकों को रुचिकर शिक्षा, एवं आनंददाई शिक्षा के बारे में विस्तार से चर्चा की गई। मौके पर प्रशिक्षक राममिलन महतो एवं शंभू कुमार, संकुल विद्यालय के प्रधानाध्यापक दिलीप कुमार साहनी आदि की भूमिका सराहनीय रहा

ये भी पढ़ें   दूसरे दिन तेघरा मुख पार्षद पद की अभ्यार्थी जालेश्वरी देवी की हुई नाम वापसी