धोनी के धुरंधर ने टीम में बदलाव की उठाई मांग, इस खिलाड़ी को नंबर 4 पर बैटिंग करने के लिए बताया परफेक्ट

धोनी के धुरंधर ने टीम में बदलाव की उठाई मांग, इस खिलाड़ी को नंबर 4 पर बैटिंग करने के लिए बताया परफेक्ट 1

धोनी की कप्तानी में खेलने वाले भारतीय क्रिकेटर रॉबिन उथप्पा( Robin Uthappa) ने बड़ा दया बयान दिया है. उथप्पा का मानना है कि ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा( Ravindra Jadeja) को पाकिस्तान के खिलाफ नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए भेजने का फैसला बिल्कुल सही था.

जिसकी भविष्यवाणी एशिया कप के ग्रुप ए के मुकाबलों में किसी ने नहीं की थी. पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले के दौरान युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत(Risabh Pant) को मौका नहीं मिला क्योंकि उनकी जगह अनुभवी दिनेश कार्तिक(Dinesh Karthik) को प्राथमिकता दी गई. टीम इंडिया को दिनेश कार्तिक के फिनिशिंग पर भरोसा था. इसका मतलब था कि टॉप 6 में सभी दाहिने हाथ के बल्लेबाज थे.

पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय पारी के आठवें ओवर में रोहित शर्मा के आउट होने के बाद रविंद्र जडेजा को नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया. रविंद्र जडेजा ने आखिरी ओवर तक बल्लेबाजी करते हुए 29 गेंदों में 35 रनों की पारी खेली. जडेजा ने सूर्यकुमार यादव(Suryakumar Yadav) और हार्दिक पांड्या(Hardik Pandya) के साथ चौथे और पांचवें विकेट के लिए क्रमशः 36 और 52 रनों की साझेदारी की.

रोबिन उथप्पा ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि किसी ने सोचा होगा कि नंबर चार पर जडेजा जाएंगे. यह एक अच्छा फैसला था. मुझे वास्तव में यह निर्णय काफी पसंद आया. इसलिए पाकिस्तान ने अपने स्पिनर नवाज को आखिरी ओवर तक बचा रखा था, लेकिन भारत ने बेहतर तरीके से मैच समाप्त किया.” रोबिन उथप्पा ने आगे कहा, ‘भारत के बल्लेबाज, कप्तान रोहित शर्मा(Rohit Sharma) और विराट कोहली(Virat Kohli) अपनी पारी की शुरुआत में धीमी गेंदबाजों के खिलाफ मशक्कत करते हुए नजर आए. लेकिन पावरप्ले के बाद अपने स्पिनरों को लाकर पाकिस्तान ने बड़ी गलती की.’

ये भी पढ़ें   Ravindra Jadeja : CSK फैंस के लिए आई बड़ी खुशखबरी, IPL 2023 में भी CSK से खेलेंगे जडेजा

हालांकि हार्दिक पांड्या के ऑलराउंड प्रदर्शन के चलते भारतीय टीम ने 5 विकेट से जीत हासिल की. वहीं गेंदबाजी के दौरान भुवनेश्वर कुमार(Bhuvneshwar Kumar) ने भी 4 ओवर में 26 रन देकर चार विकेट चटकाए. उन्होंने तीसरे ओवर में पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम को आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखाया. आखिरी ओवरों में शादाब खान, आसिफ अली और नसीम शाह को भी अपना शिकार बनाया.