8 February 2023

रेल यात्रियों की बल्ले-बल्ले! अब Train लेट होने पर वापस मिलेगा पैसा, जानें – कैसे मिलेगा रिफंड..

train ticket

डेस्क : देश भर में कोहरे का कहर लगातार जारी है और ऐसे में ट्रेनों की रफ्तार भी अब धीमी हो गई है. आलम यह है कि अपने सही समय से चलने के लिए मशहूर राजधानी एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें भी अब 12 -12 घंटों की देरी से चल रही हैं. यही नहीं कोहरे के चलते तेजस एक्सप्रेस जैसी विशेष ट्रेनें भी लेट हो जा रही हैं.

ट्रेनों की लेटलतीफी के चलते एक तरफ यात्रीगण जहां ट्रेनों के इंतजार में स्टेशन पर परेशान होते रहते हैं. वहीं, दूसरी तरफ ट्रेन में सफर करने वालों को भी कई तरह की मुसीबतों का भी सामना करना पड़ता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि हमारे देश में एक ऐसी ट्रेन भी चलती है जिसके लेट हो जाने पर यात्रियों को पैसा भी वापस किया जाता है? आज हम आपको इसी ट्रेन के बारे में बताने भी जा रहे हैं.

IRCTC द्वारा संचालित की जाने वाली तेजस एक्सप्रेस एक ऐसी ट्रेन है, जिसमें यात्रियों को हवाई जहाज की तरह की ही सुविधाएं प्रदान की जाती हैं. इस ट्रेन को देश की सर्वाधिक सुविधा युक्त ट्रेनों में भी शुमार किया जाता है. यही नहीं प्रीमियम क्लास की इस ट्रेन को अपने निर्धारित समय से खुलने और गंतव्य तक पहुंचने के लिए जाना भी जाता है.

साथ ही IRCTC की व्यवस्था है कि अगर यह ट्रेन किसी भी कारण से अपने गंतव्य तक देर से पहुंचती है तो एक निर्धारित धनराशि यात्रियों को रिफंड भी की जाती है. IRCTC के नियमों के मुताबिक अगर तेजस एक्सप्रेस 1 घंटे की देरी से अपने गंतव्य तक पहुंचती है तो 100 रुपये प्रति यात्री रिफंड भी किया जाता है. वहीं, अगर ट्रेन 2 घंटे से ज्यादा की देरी से लेट होती है तो प्रति यात्री 250 रुपये तक वापस किए जाते हैं.

इस रिफंड का यह है प्रोसेस?

अगर यह विशेष ट्रेन किसी भी कारण से अपने गंतव्य तक देरी से पहुंचती है तो इस ट्रेन से यात्रा कर रहे यात्रियों के मोबाइल पर IRCTC द्वारा एक मैसेज प्राप्त है. उस मैसेज में IRCTC का एक लिंक होता है. उस लिंक को ओपन करने के बाद यात्री को अपनी यात्रा संबंधित जानकारी भी देनी होती है. इसके बाद अगर ट्रेन 1 घंटे लेट से है तो 100 रुपये और 2 घंटे या 2 घंटे से ज्यादा लेट है तो 250 रुपये उस अकाउंट में रिफंड आ जाते हैं जिस खाते से टिकट को बुक किया गया था.