घर के बड़े को टीका लगवाने से बच्चे पर भी संक्रमण का खतरा होगा कम

Covid Vaccination

न्यूज डेस्क : कोविड-19 संक्रमण वायरस को पूरी तरह जड़ से मिटाने के लिए सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह गंभीर है और हर जरूरी फैसले ले रही है। इस घातक महामारी के खिलाफ जिले में लगातार वैक्सीनेशन एवं जाँच अभियान चल रहा है। वहीं, कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा वैक्सीन को लेकर तरह-तरह की भ्रांतियाँ फैलाई जा रही है। जो सिर्फ और सिर्फ पूरी तरह तथ्यहीन है। जबकि, सच तो यह है कि इस घातक से बचाव के लिए जहाँ वैक्सीन ही सबसे कारगर और बेहतर सुरक्षा कवच है। वहीं, जंग के लिए सबसे बड़ा हथियार है। यह जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ गोपाल मिश्रा का कहना है। उन्होंने लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा है, वैक्सीन ना सिर्फ सुरक्षित है। बल्कि, काफी प्रभावी भी है। इउन्होंने तमाम जिले वासियों से अपील करते हुए कहा कि निर्भीक होकर वैक्सीनेशन कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें। वैक्सीन ना सिर्फ वर्तमान के लिए जरूरी है। बल्कि, भविष्य के लिए सबसे कारगर सुरक्षा कवच साबित होगा।

किसी प्रकार के दुष्प्रचार का नहीं बनें शिकार, भारतीय वैज्ञानिकों एवं चिकित्सकों पर रखें भरोसा : जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ गोपाल मिश्रा ने बताया, वैक्सीन को लेकर फैलाई जा रही भ्रांतियाँ पूरी तरह तथ्यहीन है। इसलिए जिले के लोग किसी प्रकार के दुष्प्रचार का शिकार नहीं बनें और भारतीय वैज्ञानिकों एवं चिकित्सकों पर भरोसा कर निर्भीक होकर वैक्सीनेशन कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें। उन्होंने कहा आने वाले दिनों में यही वैक्सीन लेने के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता सकता है। इसलिए, जैसे ही मौका मिले, इसे जीवन का सबसे बेहतर अवसर समझकर वैक्सीन लें।

घर के बड़े को टीका लगवाने से बच्चे पर भी संक्रमण का खतरा होगा कम : जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ गोपाल मिश्रा ने कहा, अगर घर के बड़े लोग टीका लेंगे तो वह तो सुरक्षित होंगे ही। इसके अलावा घर बच्चे पर भी संक्रमण का खतरा दूर होगा। कारण, यह कि बड़ों से बच्चों में संक्रमण फैलने का खतरा अधिक रहता है। लेकिन, यह बात भी ख्याल रखें कि बाहर जाने पर शारीरिक दूरी का पालन करें। मास्क का उपयोग करें और इम्युन सिस्टम को मजबूत रखें। ताकि आप कोरोना के कैरियर नहीं बन सकें। जब घर के बड़े लोग मास्क, सेनेटाइजेशन समेत अन्य गाइडलाइन का पालन करेंगे। इससे स्वाभाविक है कि बच्चे भी सीखेंगे। क्योंकि, बच्चा जो देखता है, वही सीखता भी है। इसलिए, गाइडलाइन का पालन जारी रखें और निश्चित रूप से वैक्सीनेशन कराएं।

भ्रांतियों को दूर करने के लिए चलाया जाएगा जागरूकता अभियान : जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ गोपाल मिश्रा ने बताया, भ्रांतियों को दूर करने के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीन की सही जानकारी से अवगत कराया जाएगा और वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित किया जाएगा।

You cannot copy content of this page