ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए शख्स ने बेची अपनी “SUV” गाड़ी, अब तक कर डाली 4 हजार लोगों की मदद

Oxygen Man Mumbai shehnaz sheikh

डेस्क : पूरे देश में इस वक्त कोरोना का मंजर भयावह बन गया है। महामारी के चलते लोग घरों में ही दुबके हुए हैं और कोरोना गाइडलाइन का पालन कर रहे हैं, अपने ही परिवार वालों को लोग मरता देख रहे हैं। ऐसे में देश के कई बड़े राज्यों में ऑक्सीजन की भारी मात्रा में कमी हो गई है। कमी के कारण डॉक्टर भी सही से जवाब नहीं दे रहें हैं। दिन प्रतिदिन लोगों का डर बढ़ता जा रहा है।

ऐसे में लोगों की मदद करने के लिए एक नौजवान मसीहा बनकर आया है, जो मुंबई के मलाड से है। मुंबई के इस मसीहा का नाम है शाहनवाज़ शेख। शाहनवाज़ शेख ने अलग तरह का काम शुरू किया है जिसके चलते वह लोगों की जान बचा रहे हैं। उन्होंने एक कंट्रोल रूम तैयार किया है, जिसमें उनके पास ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए फ़ोन आता है और वह उस ज़रुरत को पूरा करते हैं। उन्होंने यह सारा सेट अप इसलिए किया है ताकि वह महामारी से बच सकें। इस बेहतरीन काम के लिए उनको ऑक्सीजन मैन कहकर बुलाया जा रहा है। ऑक्सीजन मैन ने अपनी एंडेवर गाड़ी को बेच दिया था और उससे 22 लाख रूपए मिले। उन रुपयों से उन्होंने 160 ऑक्सीजन सिलिंडर ले लिए और लोगों की मदद करना शुरू कर दी।

उनके पास जो भी पैसे थे वह बीते वर्ष ख़तम हो गए थे, लेकिन लोगों की सेवा करने का जज़्बा उनका कम नहीं हुआ। उनके जज़्बे के चलते ही उन्होंने अपनी पसंदीदा गाड़ी बेच दी थी। वह पूरे मुंबई में इस वक्त ऑक्सीजन पहुँचाने का काम चरणबद्ध तरीके से कर रहे हैं। ऑक्सीजन की मांग जनवरी में करीब 50 सिलेंडर प्रतिदिन की थी लेकिन अब वह 500 से 600 हो गई है। ऐसा वह इसलिए कह रहे हैं क्योंकि रोजाना उनको 500 से 600 फोन आते हैं और सभी फोन ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए ही आते हैं। ऐसे में मात्र 10-20% लोगों तक ही मदद पहुंच पाती है। कुछ सिलेंडर उनके खुद के हैं और कुछ सिलेंडर उन्होंने रेंट पर लिए हुए हैं, जिनसे वह अपना काम चला रहे हैं। कई लोग तो ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदने की रकम नहीं अदा कर पाते हैं। ऐसे में लोगों के लिए वह घर तक सिलेंडर पहुंचाने की कोई राशि नहीं लेते हैं। फिलहाल अब तक शाहनवाज शेख चार हजार से ऊपर लोगों की मदद कर चुकी हैं।

You cannot copy content of this page