बेगूसराय के GD कॉलेज में चार साल का इंट्रीग्रेटेड B.Ed कोर्स की पढ़ाई शुरू करवाने की उठी मांग

GD COLLEGE BEGUSARAI

न्यूज डेस्क : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के द्वारा जी डी कॉलेज प्राचार्य के माध्यम से मिथिला विश्वविद्यालय कुलपति के नाम एक पत्र समर्पित किया , जिसमें जी डी कॉलेज में 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड B.Ed कोर्स की पढ़ाई , स्नातक में होम साइंस की पढ़ाई व स्नातकोत्तर में भूगोल होम साइंस तथा म्यूजिक एवं ड्रामा की पढ़ाई प्रारंभ करने की मांग की। ज्ञापन सौंपते हुए प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सोनू सरकार तथा नगर मंत्री पुरुषोत्तम कुमार ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में इंटर के बाद स्नातक के साथ-साथ B.Ed की पढ़ाई सरकार का एक ऐतिहासिक कदम है।

इसलिए बेगूसराय जिले में भी जीडी कॉलेज में उसकी पढ़ाई अविलंब प्रारंभ करने की मांग कुलपति महोदय से की गई है। जिले से हजारों की तादाद में छात्र छात्रा प्रत्येक वर्ष इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होते हैं। जो शिक्षा के क्षेत्र में अपना जीवन बनाना चाहते हैं ,उसके लिए जी डी कॉलेज में इंटीग्रेटेड B.Ed कोर्स की पढ़ाई छात्र हितों में एक ऐतिहासिक कदम होगा। कॉलेज अध्यक्ष आदित्य राज व नगर सह मंत्री राहुल कुमार ने कहा कि विगत कई वर्षों से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जीडी कॉलेज में म्यूजिक एवं ड्रामा की पढ़ाई को लेकर पत्राचार करते रहा है। बेगूसराय कला संस्कृति के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध है। किंतु यहां के छात्र छात्रा आज भी म्यूजिक एवं की पढ़ाई के लिए यहां से बाहर जाते हैं और उन्हें उचित मंच नहीं मिल पाता है।

इसलिए अविलंब संगीत-ड्रामा की पढ़ाई प्रारंभ करवाया जाए । जी डी कॉलेज इस कोर्स की सभी अहर्ता रखता है इसके बाद भी पढ़ाई का प्रारंभ ना होना यहां के कला प्रेमियों में निराशा का भाव पैदा करता है । कॉलेज सह मंत्री कौशिक झा व कार्यालय मंत्री विवेक कुमार ने कहा कि आज के समय में जी डी कॉलेज जैसे शिक्षण संस्थान में गृह विज्ञान की पढ़ाई नहीं हो रही है जो बालिका शिक्षा के लिए एक अवरोध है। पूरे जिले में एक भी महाविद्यालय में भूगोल में स्नातकोत्तर की पढ़ाई नहीं होती है। इसलिए पत्राचार के माध्यम से कुलपति महोदय से यह मांग किया गया है कि उक्त विषय की पढ़ाई शीघ्र प्रारंभ करने का कार्य किया जाए । मौके पर सुनील ,अभिषेक सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

You may have missed

You cannot copy content of this page