अपने ही देश के लोगों ने किया जीना हराम! अब जा रहा हू विदेश , वहीं से बनाऊंगा पर्चा

बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्णा शास्त्री ने खुद की जान को खतरा जताते हुए कहा कि आए दिन जान से मारने की धमकी मिल रही है। कहा कि विदेशी लोगों की प्लानिंग चल रही है हमको मिटाने और डुबाने की। बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्णा शास्त्री अपने बयानों को लेकर इन दिनों चर्चाओं में हैं और किसी ना किसी वजह से मीडिया तक की सुर्खियों में छाए रहते हैं। धीरेंद्र शास्त्री ने हाल में खुद की जान को खतरा जताया है। दरअसल, एक टीवी चैनल को दिए अपने इंटरव्यू के दौरान उन्होंने खुद पर खतरे के बारे में कहा कि मुझे मारने और खत्म करने के लिए कुछ विदेशी ताकतें हत्या की योजना बना रही हैं।

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने टीवी चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में कई सवालों को जवाब दिए। इस दौरान धीरेंद्र शास्त्री ने कहा, आए दिन जान से मारने की धमकी मिल रही है। कहा जा रहा है कि फंसा देंगे, बर्बाद कर देंगे। उन्होंने बोलते हुए कहा कि मुझे मारने और खत्म करने के लिए कुछ विदेशी ताकतें हत्या की योजना बना रही हैं। कहा कि हमको मिटाने और डुबाने के साथ-साथ बदनाम करने की भी योजना हैं। खैर, उन से क्या डरना

इस दौरान धीरेंद्र शास्त्री से सवाल पूछा गया कि आप पहले राम कथा करते थे अब हिंदू राष्ट्र की बात कैसे करने लगे? इस सवाल का जवाब देते हुए धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा, हमारे मन में पहले से ही हिंदू राष्ट्र की बात थी। आप लोगों ने हमें इस कांसेप्ट पर स्थिर रखा है। हमारा सनातन हिंदू राष्ट्र, हिंदुत्व भाव… यह हममें नहीं होगा तो किस में होगा? प्रत्येक हिंदू में यह जुनून होना चाहिए। भगवान करे आपमे भी ये जुनून हो। टीवी वालों में भी जुनून हो अगर आप लोगों में यह जुनून नहीं होगा तो आप लोगों के हिंदू होने का मतलब क्या है?

धीरेंद्र शास्त्री इतने पर ही नहीं रुके उन्होंने कहा कि आप हमारा हिंदू राष्ट्र करवा दो हम अखंड भारत का भी मोर्चा खोल देंगे। इंटरव्यू के दौरान उनसे पूछा गया कि क्या कांति करेंगे आप? इस सवाल के जवाब में पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने कहा- क्यों छोड़ेंगे हम? अटक से कटक तक यह अपने हमारे परदादा की संपत्ति है। वहीं, घर वापसी से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए धीरेंद्र शास्त्री ने कहा- ‘घर वापसी करवाने के लिए हम नहीं जाते। कोई आ जाता है तो हम मना नहीं करते। भगा थोड़ी ना देंगे।’

बता दे कि बागेश्वर धाम में चल रहे धार्मिक आयोजन के आखिरी दिन बड़ी संख्या में लोगों ने सनातन धर्म स्वीकार करते हुए घर वापसी की। पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने हजारों श्रद्धालुओं की मौजूदगी में 220 लोगों को पीली पट्टिका पहनाकर घर वापसी करवाई। बागेश्वर धाम के धीरेंद्र शास्त्री का दावा है कि इन लोगों ने खुद अपनी मर्जी से सनातन धर्म में वापसी की है। हिंदू जागरण मंच के लोग इन लोगों को बागेश्वर धाम लेकर पहुंचे थे।