ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा के भाला की करोड़ो रुपये में लगी बोली , कीमत जानकर हो जाएंगे हैरान

neeraj chopra jawelin

डेस्क : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जन्मदिन के अवसर पर उनको मिले गिफ्ट की ई-नीलामी की गई, जो कि बीते कल यानी बृहस्पतिवार को समाप्त हो गई है। इस नीलामी में करीब 27 सौ तोहफे थे। इस ई-नीलामी के माध्यम से मिले राशि नमामि गंगे मिशन को दी जाएगी। इसमें स्मृति-चिन्हों के साथ-साथ पदक विजेता ओलंपियन और पैरालिंपियन खिलाड़ियों के खेल में उपयोग होने वाले कीटस, पेंटिंग, आदि जैसे वस्तु शामिल हैं। बतादें कि इस नीलामी में भारी बड़ी बोली टोक्यो ओलंपिक्स में गोल्ड मेडल हासिल करने वाले सबके चहेते “नीरज चोपड़ा” के भाले (javelin) की लगी।

नीरज चोपड़ा के जेवलिन के लिए 1.50 करोड़ रुपए की बड़ी बोली लगाई गई है। सब यही चाह रहा था कि यह भला हमारा हो जाए। वहीं सबसे अधिक सरदार पटेल की 40 मूर्तियां लोगों ने ख़रीदी। साथ ही भवानी देवी की आटोग्राफ वाली तलवार को 1.25 करोड़ रुपये की बोली तक लगाई गई, अब आते हैं ओलम्पियम की ओर तो सुमित अंतिल के भाला को 1.002 करोड़ रुपए दिए गए, टोक्यो 2020 पैरालंपिक टीम के कपड़ों को 1 करोड़ रुपये, वहीं असम की बेटी लवलीना बोरगोहेन के दस्ताने को 91 लाख की रकम पर खरीदा गया।

सबसे अधिक बोलियां किस उपहार पर लगाई गई

सबसे अधिक बोली की किस वस्तु पर लगाई गई कि बात करें तो लकड़ी से बने गणेश 1174 बोलियां लगी, वहीं पुणे मेट्रो लाइन का स्मृति चिन्ह पर 104 बोलियां लगी, और विजय लौ का स्मृति चिन्ह पर 98 बोलियां लगाई गई। इन सब चिंजो के साथ ही अयोध्या राम मंदिर के मॉडल से लेकर वाराणसी का रुद्राक्ष सभागार तक इस नीलामी में काफी चर्चा में रही। बतादें कि पीएम मोदी की गिफ्टों की यह नीलामी 7 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चली।

पीएम ने खुद की थी ई-नीलामी की घोषणा

इस नीलामी की यह खास बात थी कि नीलामी में पीएम मोदी को मिले गिफ्ट पर बोली लगाई जानी थी और इसकी घोषणा खुद उन्हीने किया था। उन्होंने कहा था कि मुझे मिले तोहफे की ई-नीलामी की जाएगी और इसमें आम आदमी भी हिस्सा ले सकेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर बताया था, “समय-सयम पर मुझे कई उपहार और स्मृति चिन्ह मिले हैं जिनकी नीलामी की जा रही है। इसमें हमारे ओलंपिक नायकों के विशेष स्मृति चिह्न भी शामिल हैं। नीलामी में भाग लें। इससे मिलने वाला पैसा नमामि गंगे पहल में जाएगा।” इनके ट्वीट के बाद लोग इस ई-नीलामी में भाग लेने के लिए उत्साहित होने लगें। साथ ही सभी ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।

You cannot copy content of this page