साल के अंत तक दिल्ली में 3 गुना बढ़ जाएंगे शराब के ठेके – किसी भी चौराहे ले सकेंगे मनचाही बोतल

liquor alcohol

डेस्क : दिल्ली पुरानी आबकारी नीति पर लौटने को तैयार है। अगले महीने से राष्ट्रीय राजधानी में 500 शराब की दुकानें होंगी। वर्ष के अंत तक, संख्या को बढ़ाकर 700 किया जा सकता है। एक स्रोत के अनुसार, दिल्ली सरकार के चार निगम, अर्थात् दिल्ली राज्य औद्योगिक और बुनियादी ढांचा विकास निगम (DSIIDC), दिल्ली पर्यटन और परिवहन विकास निगम (DTTDC), दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम लिमिटेड (डीएससीएससी) और दिल्ली उपभोक्ता सहकारी थोक स्टोर (डीएसटी) डीसीसीडब्ल्यूएस) को शहर भर में स्टोर खोलने की जिम्मेदारी दी जाएगी।

हालांकि, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी पिछले सप्ताह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था कि शहर लगभग 500 केंद्र खोलकर संतुलन बनाए रखेगा। आम आदमी पार्टी की सरकार भी चारों निगमों के महंगे ब्रांड बेचने के लिए प्रीमियम आउटलेट खोलने की योजना बना रही है। सूत्रों ने कहा, “DTTDC जोन 1-9, DSIIDC जोन 10-18, DCCWS 19-24 और DSCSC Airport जोन 25-30 में खुलेंगे।” उन्होंने कहा कि दिल्ली छावनी और नई दिल्ली नगर परिषद क्षेत्रों का प्रबंधन DSIIDC द्वारा किया जाएगा।

निगम को अपने सकल लाभ का 15 प्रतिशत किराए के रूप में देना होता है। हालांकि, सूत्रों ने बताया कि दुकानदार मांग कर रहे हैं कि उन्हें सितंबर 2021 तक पुरानी आबकारी व्यवस्था के दौरान दुकानें खोलने की अनुमति दी जाए। हालांकि, सरकार खुदरा शराब कारोबार में निजी खिलाड़ियों को शामिल करने के मूड में नहीं है।

ये भी पढ़ें   हर वाहन चालक को खर्च करने होंगे Air Bags के लिए इतने रूपए - Nitin Gadkari ने तय की कीमत