जानें क्यों दिल्ली में फिर बंद हो रहे ठेके, बढ़ सकते हैं शराब के दाम

alcohol bottles

डेस्क : दिल्ली में शराब पीने वाले के लिए एक दुखद ख़बर है। एक बार फिर से राजधानी दिल्ली में शराब की कीमतों में इजाफा हो सकता है। वहां तेजी से शराब की दुकानें बंद होती जा रही है। दुकानों पर ग्राहकों की लंबी लाइन देखने को मिल रही है, जहां स्टॉप पर्याप्त मात्रा में ना होने की वजह से शराब की कमी हो रही है।

इन दिनों शराब के शौकीन लोगों के लिए राजधानी दिल्ली सबसे पसंदीदा जगह बनी हुई थी। नई लीकर पॉलिसी लागू होने के बाद राजधानी में शराब के ठेकों पर बड़े डिस्काउंट पर शराब बेची जा रही है। के शराब के ठेके तो ऐसे हैं जहां एक पर एक फ्री दिए जाते हैं। हालांकि जल्दी शराब की कीमतों में उछाल भी देखने को मिल सकता है। नई पॉलिसी लागू होने के बाद बड़ी तेजी से दिल्ली में शराब की दुकानें खोलना शुरू हुई थी। उतनी ही तेजी से शराब की दुकानें बंद भी हो रही है।

आबकारी विभाग के आंकड़ों के अनुसार, राजधानी में 32 में से 9 शराब के डीलरों ने दुकान बंद करने की मांग की है। विभाग की लिस्ट में अब शराब के 464 दुकाने बची हुई है। 2021-22 की आबकारी पॉलिसी में 849 दुकानों को लाइसेंस प्रदान किया गया था जिनमें से सिर्फ 639 दुकानें ही खुली रह गई थी। कई शराब के ठेकेदारों ने लाइसेंस सरेंडर करने का फ़ैसला लिया है।

शराब पर बंपर डिस्काउंट के बाद जहां एक तरफ ग्राहकों को फायदा हो रहा था वही ठेकेदारों के लिए घाटे का सौदा साबित हो रहा था। बड़े और इंपोर्टेड शराब के बोतलों पर भारी डिस्काउंट देने से डीलरों काफ़ी नुकसान हो रहा था। आबकारी विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक 32 में से 9 जून के शराब व्यवसायियों ने कारोबार जारी रखने में असमर्थता जताई है। आपको बता दें कि आबकारी नीति का कई सारे रिहायशी ईलाकों पर विरोध भी किया जा रहा है। आलम कुछ ऐसा है कि दिल्ली में जो दुकाने खुली रह गई है उन पर ग्राहकों की लंबी भीड़ देखने को मिल रही है। वही स्टॉक में भी भारी कमी देखी जा रही है।

ये भी पढ़ें   Indian Railway : अब Train में बेफिक्र होकर सो जाइए, आपका स्टेशन आने पर रेलवे आपको उठाएगा..