डॉक्टर में भगवान : बीमार रहते हुए भी अपने मरीजों को सलाह देते रहे डॉ के के अग्रवाल का निधन, एक हफ्ते से थे वेंटीलेटर पर

kk aggarwaal died cardiologist

डेस्क : डॉ के के अग्रवाल अब हमारे बीच नहीं रहे। बता दें कि वह दिल्ली एम्स में कार्डियोलॉजिस्ट थे। वह अपनी जिंदगी के आखिरी दिनों में भी लोगों को वीडियो के माध्यम से सलाह देते रहते थे। बता दें कि बीते सोमवार को उन्होंने अंतिम सांस ली। वह ताउम्र लोगों की देखभाल की जिम्मेदारी उठाते रहे। वह कभी भी अपने चिकित्सक होने के धर्म से नहीं भटके।

डॉक्टर के के अग्रवाल जीवन में शुरू से लेकर अंत तक लोगों को अपने शैक्षणिक तजुर्बे से जागरूक करते रहे हैं। उनके कई पेशेंट थे, जो उनके सलाह लेकर ठीक हुए थे। अब वह हमारे बीच नहीं है। बता दें कि उनके डेटाबेस में 10 करोड़ लोग मौजूद है कई लोगों की उन्होंने अलग-अलग प्रयासों से लोगों की जान बचाई है। बता दें कि वह मूल निवासी मध्य प्रदेश के हैं। उनके पिताजी नौकरी के सिलसिले में दिल्ली आए थे और केके अग्रवाल भी अपने पिता का हाथ थामें हुए दिल्ली आ गए।

शुरुआती जीवन से वह अपने को छोड़कर सब की बातें किया करते थे और हर एक का ख्याल रखते थे। उन्होंने अपनी पढ़ाई नागपुर विश्वविद्यालय से पूरी की जहां पर उन्होंने एमबीबीएस किया और फिर उन्होंने MD की पढ़ाई भी पूरी की, सन 1983 में उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी कर ली थी। उन्होंने स्ट्रैप्टोकीनेस थेरेपी का इस्तेमाल करना सीख लिया था। बता दें कि वह अनेकों रिसर्च पेपर पब्लिश कर चुके थे, जिसमें उन्होंने इकोकार्डियोग्राफी से भी जनता को रूबरू करवाया था।

उसके बाद नई दिल्ली में मूलचंद मेडिसिटी मे रहते हुए उन्होंने अनेकों लोगों की मदद की और यहां पर उन्होंने सीनियर कंसलटेंट बनकर अपनी जिम्मेदारी निभाई। साथ ही वह हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। उनके नाम पर अनेकों पुरस्कार भी है। उनका नाम पद्मश्री पुरस्कार के विजेताओं में भी लिखा जा चुका है। साल 2010 में वह पद्मश्री पुरस्कार अपने नाम कर चुके हैं, इससे पहले वह बी सी राय पुरस्कार भी हासिल कर चुके हैं, जो उनको 2005 में मिला था। चिकित्सा क्षेत्र में सबसे ऊंचा पुरस्कार यही माना जाता है।

इतना ही नहीं वे अपनी निजी जिंदगी में काफी मजाकिया थे उन्होंने अपना एक वीडियो इंटरनेट पर डाला था जो काफी तेजी से वायरल हुआ था जिसमें वह अपनी पत्नी से डांट खाते नजर आ रहे थे। बता दें कि कोरोना काल में उन्होंने वैक्सीन लगवाई लेकिन इसकी जानकारी उन्होंने किसी को नहीं दी थी। इसके बाद उनकी पत्नी को यह बात पता चली तो उनकी पत्नी ने उनको फोन पर ही डांटना शुरू कर दिया था और वह कहते रह गए कि मैं अभी फेसबुक लाइव कर रहा हूं तुम बाद में फोन करना।

You cannot copy content of this page