CBSE : 12वीं कक्षा की परीक्षाएं रद्द, पीएम मोदी बोले- कोरोना काल के चलते छात्रों के हित में फैसला

12 board exam cancelled

डेस्क : कोरोना काल के चलते 12वीं कक्षा के CBSE छात्रों में यह आशंका बनी हुई थी की आखिर उनकी परीक्षा होगी या नहीं, बता दें की इस पर भारत सरकार ने फैसला सूना दिया है। हाल ही में पीएम मोदी की अध्यक्षता में मीटिंग हुई जिसमें कहा गया है की 12 वीं की परीक्षा नहीं होगी। यह राय विभिन्न हितधारकों द्वारा ली गई है। ताज़ा जानकारी के मुताबिक़ अब बारहँवी कक्षा की बोर्ड परीक्षा आयोजित नहीं होंगी।

गहन विचार विमर्श करने के बाद यह फैसला लिया गया है की परीक्षाओं को रद्द करने में ही भलाई है। बच्चों का भविष्य उज्जवल हो सके इसके लिए यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। इस बैठक में यह फैसला लिया गया है की 12वीं कक्षा का रिजल्ट अब संक्षिप्त तरीके से पूरी पारदर्शिता के साथ तय किया जाएगा। इसके बावजूद यदि कुछ बच्चे परीक्षा देने की इच्छा रखते हैं तो वह स्थिति अनुकूल होने के बाद दे सकते हैं। भारत में CBSE बोर्ड की 12वीं कक्षा में 12 लाख बच्चे हैं और ICSE बोर्ड के 4 लाख बच्चे हैं। इन सभी 16 लाख बच्चों की परीक्षा रद्द कर दी गई है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने इस फैसले का स्वागत किया है और कहा है की हमें बेहद ख़ुशी है की केंद्र सरकार ने बच्चों के हितों को देखते हुए निर्णय लिया है। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का कहना है की हमारी यही मांग थी, हमें बेहद ख़ुशी है की केंद्र ने यह फैसला लिया है। इससे बच्चों और टीचरों का स्वास्थ्य खराब नहीं होगा। बैठक में सभी राज्यों के हितधारकों से सुझाव मांगे गए। इस मीटिंग में केंद्रीय मंत्री अमित शाह, प्रकाश जावड़ेकर, धर्मेन्द्र प्रधान, पीयूष गोयल, निर्मला सीतारमण शामिल थे।

You cannot copy content of this page