अरबपति नीता और मुकेश अम्बानी बने दादा-दादी, परिवार में दौड़ी ख़ुशी की लहर

Mukesh Ambani

डेस्क : नीता और मुकेश अंबानी इस वक्त दादा-दादी बन चुके हैं उनकी खुशी का ठिकाना सातवें आसमान पर है। ऐसे में अंबानी परिवार के घर खुशियों की लहर दौड़ रही है आपको बता दें कि मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी की हाल ही में यानी पिछले वर्ष मार्च 2019 में शादी हुई थी। आकाश अंबानी की पत्नी का नाम श्लोका मेहता अंबानी है।

मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी के तीन बच्चे हैं जिसमें से दो जुड़वा है उनका नाम अकाश अंबानी और इशा अंबानी है दोनों की उम्र 29 वर्ष है। साथ ही तीसरे बच्चे का नाम अनंत अंबानी है जिसकी उम्र 25 वर्ष है। मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी की शादी मार्च 2019 में रसल मेहता की बेटी श्लोका मेहता से हुई थी। ऐसे में जब मीडिया कर्मियों ने श्लोक और आकाश अंबानी से बातचीत की तो उनका कहना है कि वह काफी गर्वान्वित महसूस कर रहे हैं मां बाप बनने के बाद।

बात की जाए अगर मुकेश अंबानी की तो वह विश्व के 10 सबसे अमीर कारोबारियों में से एक है। आपको बता दें कि मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी की पत्नी ने हाल ही में बीते गुरुवार की सुबह 11:00 बजे बेटे को जन्म दिया और इसके बाद नीता और मुकेश अंबानी ने मिलकर अपने पोते का इस नई दुनिया में स्वागत किया साथ ही मां और बच्चे दोनों की तबीयत में काफी ज्यादा सुधार है और परेशानी की कोई बात नहीं है ऐसा डॉक्टरों का कहना है।

अकाश अंबानी और श्लोका मेहता की शादी पूरे भारत की महंगी शादियों में से एक थी जिसमें कई बॉलीवुड हस्तियां नजर आई थी साथ ही वह अपने प्री वेडिंग सेलिब्रेशन के लिए सुजरलैंड गए थे ऐसे में इस सुजरलैंड की ट्रिप में 3 दिन लगे थे। दुनिया के सबसे अमीर 10 व्यापारियों में से एक नाम है मुकेश अंबानी का, ऐसा इसलिए क्योंकि भारत के हर इंडस्ट्री में रिलायंस इंडस्ट्री की अपनी एक पहचान है बिजली से लेकर इंटरनेट तक और खाने-पीने से लेकर कपड़े पहनने तक सारी जगह रिलायंस के शेयर्स मौजूद है।

हाल ही में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 620 करोड रुपए में ब्रिटेन की एक खिलौने की कंपनी को खरीदा था जिसमें लोग सोशल मीडिया पर यह कहते नजर आए थे कि वह अपने नए आने वाले मेहमान के लिए तोहफे बटोर रहे हैं। मुकेश अंबानी की बहू ने भी 2015 में एक एनजीओ चालू किया था जिसके तहत वह गरीबों की मदद करती है चाहे वह शिक्षा के क्षेत्र में हो, भोजन के क्षेत्र में हो या गरीबों के सर पर छत दिलाने के क्षेत्र में हो। उनके एनजीओ का नाम है कनेक्ट फॉर।

You cannot copy content of this page