तमिलनाडु में 40 हजार ब्राह्मण लड़कों को शादी के लिए नहीं मिल रही दुल्हन, यूपी और बिहार में लगा रहे हैं चक्कर

Dulhan

डेस्क: यह बात जानकर आपको हैरानी होगी कि तमिलनाडु में ब्राह्मण लड़कों की शादी नहीं हो पा रही है। क्योंकि, लड़कों को अपनी दुल्हन नहीं मिल पा रही है, इस दिक्कत से निपटने के लिए अब यूपी और बिहार की तरफ रुख कर रहे हैं। अब सवाल ये उठता है, आखिर यह समस्या आई तो आई कहां से.. बताते चले की  40,000 से अधिक युवा तमिल ब्राह्मण पुरुषों को राज्य के भीतर दुल्हन ढूंढना मुश्किल हो रहा है, इसलिए तमिलनाडु स्थित ब्राह्मण संघ ने 2 हजार किलोमीटर (KM) दूर UP और BIHAR में एक ही समुदाय से संबंधित उपयुक्त मैचों की तलाश के लिए एक विशेष अभियान शुरू किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राज्य में तमिल ब्राह्मण (Brahmins) दुल्हनों की कमी के चलते राज्य के ब्राह्मण संघ ने यूपी और बिहार राज्यों में उपयुक्त जोड़े की तलाश शुरू की है, थमिजनाडु ब्राह्मण एसोसिएशन (Thambraas) के अध्यक्ष एन नारायणन ने संगठन की मीडिया बताया की “हमने अपने संगम की ओर से एक विशेष अभियान शुरू किया है” उन्होंने कहा कि 30-40 आयु वर्ग के 40,000 से अधिक तमिल ब्राह्मण पुरुष शादी नहीं कर सके हैं, ऐसा इसलिए क्योंकि वे तमिलनाडु में दुल्हन नहीं ढूंढ पा रहे हैं।

10 लड़कों के मुकाबले मात्र 6 लड़कियां है: आगे उन्होंने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया की “अगर विवाह योग्य आयु वर्ग में 10 ब्राह्मण लड़के हैं, तो तमिलनाडु में विवाह योग्य आयु वर्ग में केवल 6 लड़कियां उपलब्ध हैं। इस पहल को आगे बढ़ाने के लिए दिल्ली, लखनऊ और पटना में समन्वयकों की नियुक्ति की जाएगी। जो व्यक्ति हिंदी में पढ़, लिख और बोल सकता है, उसे यहां संघ के मुख्यालय में समन्वय की भूमिका निभाने के लिए नियुक्त किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह लखनऊ और पटना के लोगों के संपर्क में हैं और इस पहल को अमल में लाया जा सकता है

You cannot copy content of this page