रानू मंडल बॉलीवुड के इस मशहूर एक्टर के घर पर किया करती थी चौखा बरतन – फेम मिलने के बाद भी संभाल पाई कामयाबी

Firoj Khan Ranu Mondol

डेस्क : जैसे ही हम रानू मंडल का नाम सुनते हैं तो हमारे मन में ‘एक प्यार का नगमा है’ गाना आने लगता है। आज हम आपको रानू मंडल की एक ऐसी जानकारी देने वाले हैं जो शायद ही आपने सुनी होगी। रानू मंडल के बारे में तो आपने बहुत बातें सुनी होंगी लेकिन क्या आपको पता है की वह एक समय पर बॉलीवुड के सबसे जाने माने कलाकार के घर पर काम किया करती थी। आपको बता दें की रानू मंडल के पास एक समय पर खाने पीने के पैसे भी नहीं थे। वह रेलवे स्टेशन पर जाकर गाना गाने के लिए मजबूर थी, लेकिन उनकी किस्मत कुछ इस तरह से पलटी की सब कुछ बदल गया।

जिस तरह से रानू मंडल शिखर तक पहुंची, कुछ इसी प्रकार वह वापस अपनी दुनिया में लौट गई हैं। उनको जितनी पॉप्युलैरिटी मिली थी वह सब ख़तम हो चुकी है। उनसे जुड़े आज के समय में कई ऐसे किस्से हैं जो बाहर निकल कर आ जाते हैं और वह चर्चा का विषय हो जाते हैं। इस बार भी एक ऐसा ही किस्सा बाहर निकलकर आया है। रानू मंडल ने साल 2019 में बॉलीवुड की फिल्म “हैप्पी हार्डी एंड हीर” के लिए गाना गाया था।

एक समय पर बॉलीवुड के स्टाइलिश हीरो फिरोज खान को लोग काफी पसंद करते थे। हर कोई उनके साथ काम करना चाहता था। रानू मंडल का कहना है की वह दिवगंत अभिनेता फिरोज खान के घर खाना बनाने और साफ सफाई का काम करती थी। फिरोज खान के घर के नीचे वाले फ्लोर पर वह अपने पति के साथ रहती थी। यह सारी बातें रानू मंडल ने एक इंटरव्यू में बताई थी। इतना ही नहीं रानू मंडल ने और भी कई बाते बताई है जैसे की फिरोज खान बहुत ही नेक दिल के आदमी थी।

रानू मंडल ने जब अपना बैंक अकाउंट खुलवाया था तो उसमें फिरोज खान का पता दिया था। फिरोज खान के बेटे फरदीन खान जब कॉलेज में थे तो रानू मंडल उनका ख्याल रखती थी। फिरोज के किचन में रानू के पति बबलू मंडल खाना बनाते थे। इसलिए जो फिरोज खान और उनका परिवार खाता था वही वो भी खाती थी और अपने परिवार को खिलाती थी। रानू मंडल ने फिरोज खान के घर की पूरी साफ़ सफाई की जिम्मेदारी उठाई थी।

जब वह फिरोज खान के घर में काम करती थी तो उन्हें कभी गाना गाने का मौका नहीं मिलता था क्योंकि वह घर की जिम्मेदारियों में व्यस्त रहती थी। इस दौरान वह ऋषि कपूर किरण खेर, राज बब्बर जैसे बॉलीवुड के दिग्गज कलाकारों से भी मिल चुकी है। बता दें कि जब उनके पति की मृत्यु हुई तो वह अपनी जिंदगी के सबसे बुरे दौर से गुजर रही थी, जिस कारण उनको रेलवे स्टेशन पर खड़ा होकर गाना गाकर भीख मांगनी पढ़ती थी। याद दिला दें कि हिमेश रेशमिया ने उनको अपनी एल्बम में गाना गवाया था, जिससे उनको 6,00,000 रूपए की मदद हो गई थी। रानू मंडल को कई मौकों पर स्टेज पे गाने का मौक़ा भी मिला है, लेकिन अब फिर से उनके पुराने दिन वापस आ गए है। उन्होंने कुछ बंगाली फिल्मों में भी गाने गाए हैं।

You cannot copy content of this page