कर्मचारियों के बल्ले बल्ले! DA में 1 जुलाई से आएगा बड़ा उछाल, ₹27,312 बढ़ेंगे..

bankFD Rate increase

डेस्क : केंद्रीय कर्मचारियों के लिए आखिरकार बड़ी खबर आई है। 1 जुलाई 2022 से उनके मंहगाई भत्ते में कितनी बढ़ोतरी की जाएगी, इसकी पुष्टि हो गई है। महंगाई के आंकड़े आ गए हैं। बड़ी बात यह है कि अब तक महंगाई के आंकड़ों से लग रहा था कि केंद्रीय कर्मचारियों का डीए 3 या 4 फीसदी बढ़ जाएगा। लेकिन, अब फास्ट मूविंग इंडेक्स ने संकेत दिया है कि इसमें 5 फीसदी का उछाल आ सकता है। लेकिन, इसके लिए मई 2022 के महंगाई के आंकड़ों को देखना होगा। हालांकि, अप्रैल 2022 के एआईसीपीआई इंडेक्स नंबरों से यह स्पष्ट है कि महंगाई भत्ते (डीए हाइक) में कम से कम 4% की वृद्धि तय है।

एआईसीपीआई इंडेक्स कितना है? अप्रैल 2022 के एआईसीपीआई इंडेक्स की संख्या में बड़ा उछाल आया है। इसमें 1.7 अंकों की बढ़ोतरी देखी गई है। अप्रैल में सूचकांक की कुल संख्या 127.7 रही है। मार्च में महंगाई का आंकड़ा 126 था। फरवरी के आंकड़ों पर नजर डालें तो अप्रैल तक सूचकांक 2.7 अंक चढ़ चुका है। इन्हीं नंबरों के आधार पर महंगाई भत्ते (डीए हाइक न्यूज) में बढ़ोतरी की जाती है। सूचकांक मुद्रास्फीति की गति के अनुसार चलता है। अगर यह बढ़ता है तो केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता भी बढ़ जाता है।

38% डीए पर कैलकुलेशन : केंद्रीय कर्मचारियों को फिलहाल 34 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है। लेकिन, 1 जुलाई 2022 से अगर उनके महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो यह 38 फीसदी तक पहुंच जाएगी. इससे उनके वेतन में भी उल्लेखनीय उछाल आएगा। महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद टोटल डीए 38 फीसदी हो जाएगा. अब मूल वेतन 18,000 रुपये पर सालाना महंगाई भत्ते में कुल बढ़ोतरी 8640 रुपये होगी।

ये भी पढ़ें   किस्मत! 60 साल बाद बेटे को मिली पिता की Passbook, अपडेट कराने पर मिले 9.33 करोड़ रूपए..

न्यूनतम मूल वेतन पर गणना

  1. कर्मचारी का मूल वेतन रु. 18,000
  2. मौजूदा महंगाई भत्ता (34%) रु.6120/माह
  3. नया महंगाई भत्ता (38%) रु.6840/माह
  4. मंहगाई भत्ता कितना बढ़ा 6840 – 6120 = रु 720/माह
  5. वार्षिक वेतन में वृद्धि 720X12 = 8640 रुपये अधिकतम मूल वेतन पर गणना
  6. कर्मचारी का मूल वेतन 56900 Rs
  7. नया महंगाई भत्ता (34%) रु 19346/माह
  8. अब तक का महंगाई भत्ता (31%) 21622 रुपये/माह
  9. महंगाई भत्ता कितना बढ़ा 21622-19346= 2276 रुपये/माह
  10. वार्षिक वेतन में वृद्धि 2276 X12 = रु 27,312

श्रम मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े : अगले महंगाई भत्ते की घोषणा जुलाई के बाद की जाएगी। इससे पहले एआईसीपीआई इंडेक्स के आंकड़ों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कितना महंगाई भत्ता बढ़ेगा। फरवरी के बाद से सूचकांक में लगातार तेजी आ रही है। ऐसे में डीए हाइक 4% लगता है। श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (एआईसीपीआई) का डेटा देश के 88 औद्योगिक रूप से महत्वपूर्ण केंद्रों में स्थित 317 बाजारों से एकत्रित खुदरा कीमतों के आधार पर लिया गया है। सूचकांक 88 केंद्रों और पूरे देश के लिए तैयार किया गया है। AICPI हर महीने के अंतिम कार्य दिवस पर जारी किया जाता है।