29 January 2023

अब चुटकियों में मिलेंगे जमीन के पुराने रिकॉर्ड – नहीं काटने पड़ेंगे ब्लॉक के चक्कर, जानें –

Land Tax

डेस्क : अगर आपने बरसों पहले अपने मकान, फ्लैट या जमीन का रजिस्ट्रेशन करवाया था, तो अब उसके कागजात आप Online देख पाएंगे. आपको बता दें कि रिजस्ट्री विभाग ने इस दिशा में पहल शुरू कर दी है. रजिस्ट्री विभाग ने वर्ष 1995 से पहले के दस्तावेजों को डिजिटल करने काम शुरू कर दिया है.

वर्तमान से लेकर वर्ष 1995 तक के दस्तावेज के डिजिटलाइजेशन का सारा काम भी पूरा हो चुका है, जिसे अब Online देखा जा सकता है. आपको बता दें कि इसके लिए राज्य सरकार की वेबसाइट भूमि जानकारी डॉटकॉम पर निबंधन वर्ष, नाम, पिता का नाम, खाता खेसरा आदि नाम डालकर Online जानकारी प्राप्त की जा सकती है.

निबंधन विभाग के महानिरीक्षक बी कार्तिकेय धनजी ने यह बताया कि राज्य में पहला निबंधन सन 1791 में पटना में हुआ था. हमारा लक्ष्य 200 साल पुराने तक के सभी दस्तावेज को डिजिटलाइज करने का है. इसके लिए चयनित एजेंसी ने राज्य के कुल 31 जिलों में निबंधित दस्तावेज के स्कैनिंग का काम शुरू भी कर दिया है.

आपको बता दें कि अब 1995 से पहले के दस्तावेज को डिजिटल किया जा रहा है. इसी तरह धीरे-धीरे सभी पुराने दस्तावेज के डिजिटलाइजेशन का कार्य भी किया जाएगा. राज्य में पिछले कुछ सालों से हर साल 10 से 11 लाख दस्तावेजों का निबंधन भी किया जा रहा है. वर्ष 1995 से लेकर अभी तक करीब 125 करोड़ से अधिक दस्तावेजों को डिजिटल किया जा चुके है.