December 10, 2022

LPG Cylinder होगा और भी ज्यादा मंहगा- सब्सिडी नहीं मिलने पर करें ये काम

LPG Cylinder

डेस्क : हम नए महीने में प्रवेश कर चुके हैं। अप्रैल शुरू हो चुका है और 1 अप्रैल से कुछ बदलाव नजर आने वाला है। जिससे LPG Cylinder की कीमत पर भी असर देखने को मिलेगा। माह के पहले दिन तेल कंपनीयां एलपीजी की कीमत का समीक्षा करती हैं। बता दें कि 22 मार्च से घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दामों में बढ़ोतरी की गई है। घरेलू एलपीजी सिलेंडर ₹50 महंगा हुआ था।

हर महीने की तरह इस महीने भी पहले दिन गैस सिलेंडर के दाम में बदलाव देखने को मिल सकता है। देशभर में जिस तरह से डीजल-पेट्रोल के दाम में दिन-ब-दिन बढ़ोतरी हो रही है। इसे देखते हुए संभावना जताई जा रही है कि अप्रैल में फिर से एक बार गैस सिलेंडर के दामों में वृद्धि तेल कंपनियां करेगी। आइए आपको एलपीजी सब्सिडी से जुड़ी कुछ बातें बता दें। दरअसल, खाते में अब नाम मात्र की सब्सिडी ग्राहकों को मिल रही है। यदि यह राशि भी आपके खाते में नहीं आती है तो यह खबर आपके लिए बहुत लाभदायक है।

हम आपको बताएंगे कि आपके खाते में पैसे कैसे आएंगे। इसके लिए सबसे पहले अपने फोन या कंप्यूटर पर इंटरनेट ओपन करें। फिर ब्राउज़र पर जाएं और www.mylpg.in टाइप करें। इसके बाद दाईं तरफ आपको गैस कंपनियों के सिलेंडर की तस्वीरें नजर आएगी। आपका जो भी सर्विस प्रोवाइडर है उसके सिलेंडर की फोटो पर क्लिक करें। फिर एक नया विंडो ओपन होगा, जो आपके गैस सर्विस प्रोवाइडर का आपको नजर आएगा। अब सबसे ऊपर दाएं तरफ साइन इन और न्यू यूजर का ऑप्शन आएगा, उस पर टाइप करें। यदि आईडी आपकी पहले बन चुकी है तो आपको साइन इन करने की जरुरत है और अगर नहीं बनी है तो न्यू यूजर पर टाइप करें।

ये भी पढ़ें   Ration Card : बढ़ गई मुफ्त राशन की मात्रा! इस महीने मिलेगा 150KG तक चावल..

वेबसाइट लोगिन कर ले। इसके बाद जो विंडो ओपन होगा,उसमें दाएं तरफ सिलेंडर बुकिंग हिस्ट्री का ऑप्शन नजर आएगा। इस पर टैप करने के बाद आपको यहां जानकारी मिलेगी कि किस सिलेंडर पर कितनी सब्सिडी आपको दी गई है और कब दी गई है। वहीं, अगर आपने गैस बुक की है और यदि आपको सब्सिडी का पैसा नहीं मिला है तो आप फीडबैक वाले बटन पर क्लिक कर यहां से पैसा ना मिलने की शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं। इसके साथ ही यदि एलपीजी आईडी को अभी तक आपने अपने अकाउंट से लिंक नहीं किया है तो डिस्ट्रीब्यूटर के पास जाकर सबसे पहले यह काम कराएं। आप चाहें तो 18002333555 पर फ्री में कॉल कर आप इसकी शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं।