कर्मचारियों की चमकी किस्मत! अब DA में होगा 40 फ़ीसदी का जबरदस्त इजाफा, ये रही पूरी डिटेल..

DA

डेस्क : देश के 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनर्स के लिए एक खुशखबरी है।एकबार फिर केंद्र सरकार केंद्रीय कर्मचरियों और पेंशनर्स को डीए में बढ़ोतरी की बड़ी सौगात दे सकती है। खबरों की मानें तोकेंद्रीय कर्मचारियों का जुलाई से महंगाई भत्ता यानी DA और पेंशनर्स के महंगाई राहत यानी DR में 6 फीसदी तक की बढ़ोतरी हो सकती है। हालांकि, अभी इसका ऐलान नहीं हुआ है। लेकिन यदि डीए में 6 प्रतिशत तक का इजाफा होता है तो आपकी सैलरी में तकरीबन 41000 रुपये की वृद्धि हो जाएगी।

केंद्रीय कर्मचारियों को फिलहाल 34 फीसदी की दर से डीए प्राप्त हो रहा है। अब यदि जुलाई से सरकार 6 प्रतिशत डीए बढ़ाती है तो यह बढ़कर 40 प्रतिशत हो सकता है। केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में इससे 12,960 रुपये से लेकर 40,968 रुपये तक की बढ़ोतरी हो सकती है। हालांकि, सरकार की तरफ से इसकी कोई पुष्टि नही की गई है। यह अंदाजा AICPI Index 2022 से ही लगाया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (All India Consumer Price Index) के आधार पर सरकार जुलाई में डीए में 6 प्रतिशत तक का इजाफा कर सकती है। AICP Index के आंकड़ों के अनुसार,यह आंकड़ा जनवरी महीने में 125.1पर और फरवरी में यह 125 पर था। वहीं मार्च में बढ़कर यह 126 पर पहुंच गया। जबकि अप्रैल में AICPI इंडेक्स 127.7 अंक पर आ गया। इसके अलावा मई में इंडेक्स का आंकड़ा बढ़कर 129 पर रहा है। अब यदि जून में भी इस आंकड़े में वृध्दि होती है तो डीए में 6 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिलेगी।

ये भी पढ़ें   कर्मचारियों की आई मौज! DA में 5% की बड़ी बढ़ोतरी, अब 1.88 लाख लोग होंगे हकदार..

यदि न्यूनतम बेसिक सैलरी 18,000 रुपए पर देखें तो यह 40 फीसदी के हिसाब से सालाना महंगाई भत्ते में कुल 12960 रुपए इजाफा होगा। यानी मौजूदा महंगाई भत्ते के मुकाबले 1080 रुपए प्रत्येक महीने बढ़ेंगे। मतलब 18000 रुपए सैलरी वाले केंद्रीय कर्मचारियों को सालाना 86400 रुपए महंगाई भत्ता का भुगतान होगा। वहीं, यदि हम अधिकतम बेसिक सैलरी 56900 रुपए पर बात करें तब सालाना महंगाई भत्ते में कुल इजाफा 40968 रुपए में होगा। मतलब 3414 रुपए मौजूदा महंगाई भत्ते के मुकाबले हर महीने बढ़ेंगे। कुल मिलाकर 56900 रुपए की बेसिक सैलरी वाले केंद्रीय कर्मचारियों को साल का 273120 रुपए महंगाई भत्ता का भुगतान होगा।