बिहार में गंगा नदी पर बन रहे बख्तियारपुर-ताजपुर 4 लेन पुल का अधूरा काम जल्द होगा पूरा, पैसे देने को बैंक तैयार

Tajpur 4 Lane Road

न्यूज डेस्क : गंगा नदी पर बीते 10 वर्षों से बन रहे ताजपुर-बख्तियारपुर पुल और गंगा पथ वे का काम अब जल्दी शुरू होने वाला है। जानकारी के लिए बता दें कि, पीपीपी मोड में बन रहे इस पुल में एजेंसी को 900 करोड़ से अधिक की राशि खर्च करनी थी। बिहार सरकार ने बैंक से कर्ज दिलवाने में मदद भी की, लेकिन एजेंसी ने आर्थिक तंगी के कारण काम रोक रखा है। लेकिन, अब पैसे के अभाव में आधी-अधूरी इस परियोजना में बैंक पैसा लगाने पर सहमत हो गया है। इसी महीने बैंकों की ओर से सहमति मिल जाने की संभावना है। इसके बाद इस परियोजना पर फिर से काम शुरू हो जाएगा।

यह पुल 2016 में बन जाना था, परंतु… मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गंगा नदी पर पटना के बख्तियारपुर और समस्तीपुर के ताजपुर को जोड़ने के लिए बनाए जा रहे चार लेन पुल को 2010 में कैबिनेट ने स्वीकृत दी और 2011 में नीतीश कुमार ने निर्माण कार्य की शुरुआत की थी। बता दे की इस प्रोजेक्ट को 2016 में ही बन जाना था। वही सरकार के स्तर पर हुई शीर्ष बैठक में यह उभरकर आया कि इस योजना में 47 फीसदी काम पूरा हो चुका है। 272 पिलरों का काम पूरा हो चुका है। 1600 करोड़ की इस परियोजना में एजेंसी को बैंकों की ओर से 400 करोड़ से अधिक मिल चुके हैं।

पुल बन जाने से इन शहरों को एक साथ जोड़ेगा पथ वे: प्राप्त जानकारी के मुताबिक, ताजपुर-बख्तियारपुर पुल में सात स्थानों पर शहर से संपर्क पथ से जोड़ा गया है। पटना के एलसीटी घाट, महावीर वात्सल्य अस्पताल के सामने, एएन सिन्हा इंस्टीच्यूट गोलघर के सामने, पीएमसीएच के पास, कृष्णा घाट साइंस कॉलेज के सामने, गाय घाट गांधी सेतु के बगल से, कंगना घाट पटना सिटी गुरुद्वारा के सामने से, पटना सिटी में पटना घाट के नजदीक जोड़ा गया है। वही गंगा पथ वे में बांस घाट और दीदारगंज चेक पोस्ट धर्मशाला घाट के पास 2 टोल प्लाजा भी बनेंगे। इसमें 8 अंडरपास और पांच जगह फुट ओवर ब्रिज बन रहे हैं। 20 KM से अधिक लंबे गंगा पथ वे में 11 किलोमीटर से अधिक एलिवेटेड पार्ट का निर्माण हो रहा है।

You may have missed

You cannot copy content of this page