बिहार के चूहों ने फिर किया करामात, इस बार शराब छोर रेलवे को लगाया चुना

Bihar ke chuhe

डेस्क : बिहार में चूहे की वीरता को तो आप कई बार सुन चुके होंगे। ये कभी ट्रक भर शराब पी जाते हैं तो कभी किसी सरकारी बांध में सेंध लगा कर तबाही मचा देते हैं। इस बार चूहों ने कारनामा तो मिलता-जुलता किया है, लेकिन विभाग अलग है। इस बार इन ओजस्वी चूहों ने रेलवे को चुना लगाया है। दरअसल चूहो ने बिहार के औरंगाबाद जिले के फेसर रेलवे स्टेशन के टिकट बुकिंग करने वाले कंप्यूटरों के तारों को कुरत दिया है।

तार कुतरने की वजह से सारे कंप्यूटर बंद पर गए हैं, जिससे यहां से सफर करने वाले यात्रियों को रेलवे टिकट नहीं दे पा रही है। इससे यात्रियों की आवगमन में मुश्किलें बढ़ रही हैं या फिर बिना टिकट ही यात्रा करना पड़ रहा है। मिले जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह के साथ ही फेसर रेलवे स्टेशन पर टिकट बुकिंग नहीं किया जा रहा है, इसकी यह वजह है कि कंप्यूटर्स खुल ही नहीं रहा है। यात्री को टिकट काउंटर से वापस खाली हाथ ही लौटना पर रह है।

यात्रियों की माने तो इन सब के पीछे स्टेशन प्रबंधन की बेहद लापरवाही बता रहै हैं। इसके साथ ही वैकल्पिक व्यवस्था के अंतरगत टिकट देने मांग कर रहे हैं। यात्रियों का कहना है कि यदि प्रबंधन सिस्टम का रख-रखाव अच्छे से करते यो यह नोबत नहीं आती। वहीं इस संबंध में स्टेशन प्रबंधन ने सीधा चूहों पर गलती थोपते हुए चूहों के द्वारा कंप्यूटर्स का तार कटने की बात कहते हु बताया कि इस बात सूचना वरीय अधिकारियों तक पहुँचा दी गयी है।

उन्होंने आगे कहा तत्कालीन व्यवस्था के तहत नजदीक के एएन रोड रेलवे स्टेशन और जाखिम रेलवे स्टेशन पर टिकट लेने हेतु 10 मिनट तक गाड़ियों रोक दिए जाने का प्रबंध किया गया है, जिससे सवारी वहां से टिकट प्राप्त कर सकें। यात्रियों को वहां से टिकट दे दिया जाएगा जाएगा, जिससे उन्हें यात्रा के दौरान किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े।

You cannot copy content of this page