LJP में टूट के बाद चिराग को लगा झटका – खाली करना होगा पिता रामविलास पासवान का बंगला, आदेश हुआ जारी

Chirag Paswan

न्यूज डेस्क : दिवंगत रामविलास पासवान के निधन के बाद LJP लगातार अलग-थलग होती नजर आ रही है। बताते चले की पिछले कई महीनों से रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान और उनके भाई पशुपति पारस के बीच राजनीतिक कलह खत्म नहीं हुआ। उधर चाचा के मंत्री बनते हैं चिराग को लगातार झटका मिल रहा है। इसी बीच चिराग पासवान को शहरी मंत्रालय की ओर से दिल्ली स्थित बंगले को खाली करने का आदेश मिला है। बता दें कि यह बंगला दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को कैबिनेट में मंत्री मिलने के बाद आवंटित किया गया था। लेकिन, पिता के निधन के बाद चिराग के हाथों कुछ नहीं लगा। और उनके चाचा केंद्रीय मंत्री बन गए हैं। इसीलिए, मिनिस्ट्री की ओर से चिराग पासवान के चाचा पशुपति कुमार पारस को भी इस बंगले में शिफ्ट होने को कहा गया था।

रामविलास पासवान तीन दशक पहले शिफ्ट हुए थे इस बंगले में: जानकारी कि आपको बता दें कि दिल्ली स्थित 12 जनपथ के बंगले में राम विलास पासवान करीब तीन दशक पहले शिफ्ट हुए थे। पिता के निधन के बाद से ही चिराग अपनी मां के साथ 8 अक्टूबर 2020 से ही इस बंगले में रह रहे हैं। फिर हाल ही में 14 जुलाई को दिल्ली स्थित 12 जनपद बंगले को खाली करने का नोटिस जारी किया गया था। हालांकि, इसके बाद चिराग ने थोड़ा वक्त मांगा था। सूत्रों के मुताबिक चिराग अपने पिता रामविलास पासवान की पहली बरसी तक इसी बंगले में रहना चाहते थे। आठ अक्टूबर को रामविलास पासवान की पहली बरसी है।

You cannot copy content of this page