बिहार : 12 एमएलसी के मनोनयन के बाद जीतन राम मांझी ने दी चेतावनी, जदयू में भी असंतोष

Jitan Ram Manjhi

बिहार में आज राज्यपाल कोटे से मनोनीत किए जाने वाले 12 एमएलसी के नामों की घोषणा कर दी गई है और इन व्यक्तियों को आज शाम में शपथ भी ग्रहण करवा दिया जाएगा। लेकिन, इन 12 लोगों का नाम सामने आने के बाद एनडीए के भीतर असंतोष सामने आ गया है। दरअसल जीतन राम मांझी ने इसपर पर आपत्ति जताई है तो वहीं जदयू के भीतर से भी असंतोष सामने आया है।

क्या कहा मांझी ने- जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि 12 लोगों को मनोनीत किए जाने से पहले एनडीए के भीतर सहयोगियों से चर्चा नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि सबकी निगाहें पार्टी के नेता जीताराम मांझी के तरफ है और बहुत जल्द कोई बड़ा फैसला लिया जाएगा। इन नामों पर जदयू नेता राजीव रंजन ने भी असंतोष जताया है। उन्होंने खुद का नाम एमएलसी के लिए नहीं भेजे जाने पर कहा कि पार्टी ने मेरे पक्ष में निर्णय नहीं लिया और उन्हें इस बात का अफसोस है।

इन व्यक्तियों को भेज गया है विधानपरिषद- विधानपरिषद में इस बार 12 सदस्यों को मनोनीत किया जाना था। भाजपा और जदयू ने इस कोटे को आपस मे बराबर – बराबर बांट लिया था। भाजपा ने घनश्याम ठाकुर, जनक राम, राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता, देवेश कुमार और निवेदिता सिंह को एमएलसी बनाया है। जनता दल यूनाइटेड ने उपेंद्र कुशवाहा, संजय गांधी, ललन सर्राफ, रामबचन राय, अशोक चौधरी और संजय सिंह को एमएलएसी बनाने का फैसला लिया है।

You cannot copy content of this page