मंत्री ने लांघी सारी सीमाएं …स्पीकर को उंगली दिखाई, कहा- ज्यादा व्याकुल नहीं होइए : बाद में मंत्रीजी को मांगनी पड़ गई माफी…

Samrat Chowdhary

बिहार विधानसभा में अभी बजट सत्र चल रहा है और यहां पर रोज किसी न किसी के बयान पर हंगामा मच रहा है। ताजा मामले में भाजपा कोटे से मंत्री बने सम्राट चौधरी ने विधानसभा अध्यक्ष को ही अमर्यादित बातें कह दी, जिसके बाद विधानसभा में सब कोई अचंभित रह गया। मंत्रीजी के इस व्यवहार से आहत विधानसभा अध्यक्ष ने तुरंत विधानसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी और अपने कक्ष में चले गए।

क्या था पूरा मामला- दरअसल सम्राट चौधरी ऑनलाइन सवालों के जवाब दिए जाने के बारे में बोल रहे थे। सम्राट चौधरी का कहना था कि उन्होंने 16 में से 14 सवालों के जवाब दे दिए हैं, जबकि विधानसभा अध्यक्ष ने उन्हें कहा कि आपने 16 में से 11 सवालों के ही जवाब दिए हैं। इसी पर मंत्री सम्राट चौधरी भड़क गए और उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष को ज्यादा व्याकुल ना होने की बात कह दी। विधानसभा अध्यक्ष ने इस टिप्पणी पर मंत्री से तुरंत माफी मांगने की बात कही। जिस पर सम्राट चौधरी ने अध्यक्ष को उंगली दिखाते हुए कहा कि आप ऐसे सदन नहीं चला सकते। सम्राट चौधरी द्वारा ऐसे बोलने के बाद विधानसभा अध्यक्ष तुरंत सदन की कार्यवाही स्थगित करके अपने कक्ष में चले गए।

विपक्ष ने साधा निशाना- विधानसभा की कार्यवाही जब दुबारा 2 बजे प्रारंभ हुई तो विपक्ष के विधायक मंत्री सम्राट चौधरी के इस्तीफे की मांग करने लगे। इसी मुद्दे पर राष्ट्रीय जनता दल ने ट्वीट करते हुए कहा कि ,” एनडीए के सारे लम्पट मंत्री बना दिए गए हैं! कोई शराब बेचता है, कोई मुक्का दिखाता है, कोई भाई से उद्घाटन करवाता है, कोई बेटे से निरीक्षण करवाता है तो कोई विधानसभा अध्यक्ष से ही तू तू मैं मैं करता है! और सीएम नीतीश कुमार कानों में तेल, आँखों पर पट्टी बांध तमाशबीन बनने को मजबूर हैं!”

सम्राट चौधरी ने माफी मांगी- विधानसभा की कार्यवाही दोबारा शुरू होने के बाद जब विपक्ष के सदस्यों ने सम्राट चौधरी के इस्तीफे की मांग की तो संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी ने खड़ा होते हुए कहा कि हम आसान का पूरी तरह से सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा कि संबंधित मंत्री को भी लगता है कि उन्होंने आसन के प्रति अमर्यादित टिप्पणी करके सदन को ठेस पहुँचाया है। इसके बाद सम्राट चौधरी खड़े हुए और उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से अपनी विवादित टिप्पणी के लिए खेद जताया और माफी मांगी।

You may have missed

You cannot copy content of this page