9 February 2023

Bihar में अमेजन-फ्लिपकार्ट की तरह हो रही है शराब की होम डिलीवरी, PK का CM नीतीश पर बड़ा आरोप..

Bihar on Liquor ban

Bihar on Liquor ban

न्यूज डेस्क: बिहार की राजनीति में प्रशांत किशोर काफी तेजी से पांव पसार रहे हैं। चुनावी रणनीतिकार के रूप में उभरे प्रशांत किशोर आज बिहार के सत्ता पर काबिज नेताओं पर हमलावर हो रहे हैं। रणनीतिकार प्रशांत किशोर जो कि अब नेता बनने की राह पर हैं। नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने राज्य की कानून व्यवस्था से लेकर शराबबंदी पर जमकर निशाना साधा। पीके इन दिनों जन सुराज अभियान के तहत पदयात्रा पर निकले हैं। इस दौरान अपने कई बयानों से सुर्खियों में बने हैं।

इसी कड़ी में मुख्य मंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर होते हुए कहा कि नीतीश कुमार एक इंजीनियर हैं और सोच विचार कर शराबबंदी किया है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री ने राज्य में शराब तो बंद करा दी लेकिन फ्लिपकार्ट और अमेजन की तर्ज पर होम डिलीवरी की सुविधा भी करा रहे हैं।

नीतीश कुमार के पुराने सहयोगी पीके अब उनके पीछे हाथ धोकर पड़ गए हैं। पीके शिक्षा, बेरोजगारी, क्राइम समेत तमाम मुद्दों पर मुख्यमंत्री को घेरने में कोई कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। पीके कहते हैं आज एक नई व्यवस्था ने जन्म लिया है आपको घर बैठे बैठे बिहार में शराब की बोतल मिल जाएगी।

तिनगुना कीमत पर शराब की होम डिलीवरी

पीके ने कहा बिहार के सीएम नीतीश कुमार जो कि एक इंजीनियर है उन्होंने अपने दिमाग से बिहार में अमेजॉन और फ्लिपकार्ट की तर्ज पर शराब की होम डिलीवरी शुरू करवा दी है। अब राज्य में 100 की शराब 400 रूपये में मिलती है। यह ग्राहकों के घर तक पहुंचा दी जा रही है।

सरकार को 20 हजार करोड़ रुपये का नुकसान

पीके ने कहा कि शराबबंदी और यह होम डिलीवरी वाली सुविधा से सरकार को हर वर्ष 20 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हो रहा है। रेवेन्यू के ये 20 हजार करोड रुपए सरकारी खजाने को मिलते तो आज स्कूल और अस्पताल की स्थिति कुछ और होती। पीके ने इतना तक कहा कि राज्य की राजनीतिक परिस्थितियां बदली तो नीतीश कुमार को बदलने में देर नहीं लगेगी।

तेजस्वी यादव को भी नहीं छोड़ा

पीके ने तेजस्वी यादव को भी नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव की अपनी कोई पहचान नहीं है। उनकी सिर्फ इतनी पहचान है कि वह लालू यादव के बेटे हैं। यादव खेलकूद या अन्य किसी भी सामाजिक कार्य में अपना योगदान नहीं दिया है। वह सिर्फ इसलिए चल रहे हैं कि वह लालू यादव के बेटे हैं।