बिहार में पेप्सी का पहला बॉटलिंग प्लांट का निर्माण बेगूसराय में शुरू, जल्द शुरू होगा उत्पादन

PEPSI BOTTLING PLANT

डेस्क : बिहार ( BIHAR ) की औद्योगिक राजधानी ( INDUSTRIAL CAPITAL) बेगूसराय ( BEGUSARAI ) जिले के दिन बहुरेंगे। एक तरफ जहां पुराने उद्योगों (OLD INDUSTRIES) की क्षमता ( CAPACITY) बढोत्तरी व नवीनीकरण किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ जिले में नए उद्योग भी लगाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में जिले में 55 एकड़ जमीन पर 550 करोड़ की लागत से पेप्सीको कंपनी के द्वारा बॉटलिंग प्लांट (Pepsico) लगाया जायेगा। जिसका निर्माण कार्य जोर शोर से किया जा रहा है। उक्त बॉटलिंग प्लांट का निर्माण कार्य बरौनी प्रखंड के उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय स्थित असुरारी गांव के समीप हो रहा है।

जहाँ विद्यालय भवन से दक्षिण एक बड़े भूखंड पर पेप्सी कंपनी का बॉटलिंग प्लांट लगाया गया है। मिली जानकारी के अनुसार ऐसा अनुमान है कि इस प्लांट लगने से स्थानीय 1500 लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। बता दें कि किसानों की 392 एकड़ की जमीन का अधिग्रहण वर्ष 1998 में बियाडा द्वारा तत्कालीन मुआवजा देकर किया गया था। जिसके बाद से लगातार यह भूमि उद्योग के लिए खाली पड़ी हुई थी। विगत 5 वर्षों में बियाडा की जमीन पर कई तरह के उद्योग लगाने की बात के साथ-साथ अस्पताल सह मेडिकल कॉलेज के साथ-साथ नर्सिंग कॉलेज खोलने की बात की जा रही थी। इसको लेकर 22 एकड़ की जमीन मेडिकल कॉलेज और नर्सिंग कॉलेज के लिए भी अधिकृत किया जा चुका है।

एक मिनट में 800 बॉटल होंगे पैक बता दें कि बरौनी स्थित इस बॉटलिंग पेप्सी प्लांट में 1 मिनट में 800 बोतल तैयार होकर पीने के लिए सील पैक हो जाएंगे। इस कार्य के लिए फिलहाल, 4 लेन प्लांटों को तैयार किया जा रहा है। इसकी जानकारी देते हुए कम्पनी के एचआर हिमांशु ठाकुर ने कहा कि इस वर्ष के अंत तक बॉटलिंग प्लांट से उत्पादन शुरू कर दिया जाएगा। इसमें मिरिंडा ( Mirinda ) , सेवनअप ( 7UP) सहित अन्य पेय पदार्थ तैयार किये जाएंगे।

ये भी पढ़ें   ग्रेजुएट चाय वाली की तोड़ी गई स्टॉल, दुखी प्रियंका रो रो कर, लगा रहीं लालू यादव से गुहार