खेल के माध्यम से बच्चों को अच्छी शिक्षा के लिए बेगूसराय जिले के सभी शिक्षकों को दिया जा रहा है प्रशिक्षण

Teacher Training

राज्य सरकार के निर्देश पर जिले के विभिन्न प्रखण्डों में शिक्षकों के लिए पांच दिवसीय चहक माॅडयूल प्रशिक्षण शिविर का किया गया आयोजन।

बेगूसराय खेल खेल के माध्यम से बच्चों को अच्छी शिक्षा,बेहतर स्वास्थ,समूह भावना और तेज विकसित स्मरण शक्ति के साथ जीवन जीने को प्रेरित करने के लिए बेगूसराय जिला के विभिन्न प्रखण्डों में पांच दिवसीय चहक माॅडयूल प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया।चहक मॉड्यूल आधारित पांच दिवसीय प्रशिक्षण शिविर तेघड़ा प्रखंड के कई प्रशिक्षण केंद्रों पर सभी विद्यालय के शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रह है।

बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा बच्चों में भाषा,बुनियादी साक्षरता,संख्या ज्ञान के साथ ही आनंददायक माहौल में सीखने सिखाने की प्रक्रिया को विकसित करने के उद्देश्य से चहक मॉड्यूल आधारित पांच दिवसीय प्रशिक्षण के तहत आज चौथे दिन आरकेसी उच्च विद्यालय फुलवड़िया एवं बीआरसी सकरपुरा हसनपुर के प्रशिक्षण केंद्र पर लगभग सौ शिक्षक एवं शिक्षिकाओं ने प्रशिक्षण में भाग लिया।प्रशिक्षण देते हुए मास्टर ट्रेनर ने बताया कि इस प्रशिक्षण के माध्यम से बच्चों के संपूर्ण विकास में आनंददाई शिक्षा के साथ ही खेल एवं संगीत जैसे गतिविधियों को शामिल करना काफी आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि इस माध्यम से बच्चों का भाषा विकास, शारीरिक विकास, सामाजिक एवं मानसिक विकास, संख्यात्मक ज्ञान की विकास के अलावे पर्यावरण के प्रति भी लगाव बढ़ेगा।साथ ही खेल एवं बाल गीत संबंधित गतिविधियों को प्रतिभागियों के बीच सामूहिक प्रस्तुति की गई।मौके पर प्रशिक्षक सुशील कुमार, रूबी कुमारी,शिक्षक संदीप कुमार, प्राचार्य रंजीत कुमार शर्मा,जयशंकर प्रसाद,वेद प्रकाश,मो शकील,ओम प्रकाश गुप्ता,राजेश केसरी एवं चंद्र कुमार आदि मौजूद थे।

ये भी पढ़ें   इंग्लैंड की जुलियट पार्कर ने काबर वेटलैंड क्षेत्र का किया दौरा कहा-आजीविका को सही ढ़ंग से समझने की जरूरत